25-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

मुंगेर: वर्षों का इंतजार खत्म, CM नीतीश करेंगे श्रीकृष्ण सेतु और घोरघट पुल का उद्घाटन

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: आज यानि शुक्रवार (11 फरवरी) को श्रीकृष्ण सेतु के नवनिर्मित सड़क पुल को औपचारिक रुप से जनता को समर्पित किया जाएगा. गंगा पर बने मुंगेर-खगड़िया श्रीकृष्ण सेतु का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उद्घाटन करेंगे. वर्चुअल माध्यम से कई मंत्री इस कार्यक्रम में शामिल होंगे, वहीं सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री भी शामिल होंगे. साथ ही मुंगेर-भागलपुर सीमा पर नवनिर्मित घोरघट पुल का भी शुभारंभ होगा.

श्रीकृष्ण सेतु से होकर अभी भारी वाहनों का परिचालन आरंभ नहीं होगा. शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी द्वारा इस सेतु के औपचारिक उद्घाटन के बाद अभी केवल इस पर छोटे निजी वाहन, सवारी वाहन एवं कम भारक्षमता वाले मालवाहक वाहन का ही परिचालन होगा.जबकि बड़े भारीवाहनों के परिचालन के लिए अभी कुछ दिन इंतजार करना होगा. इसके लिए जब रेलवे से स्वीकृति मिलेगी तब जाकर कहीं भारी मालवाहक वाहनों का परिचालन आरंभ होगा.

पहले घोरघट ब्रिज का फिर श्रीकृष्ण सेतु का लोकार्पण करेंगे सीएम

मुख्यमंत्री पहले घोरघट में एनएच 80 पर निर्मित पुल का उद्धाटन करेंगे. इसके बाद वे मुंगेर पहुचेंगे. जहां टीकारामपुर के निकट स्थित मुख्य कार्यक्रम स्थल से श्रीकृष्ण सेतु का उद्घाटन करेंगे. इस कार्यक्रम में केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गड़कड़ी वर्जुअली रुप से जुड़ेगे. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री हवाई मार्ग से घोरघट पहुंचेंगे. इसके लिए घोरघट ब्रिज के पास हेलीपैड का निर्माण कराया गया है.

मुख्यमंत्री के साथ दोनों उपमुख्यमंत्री एवं कई कैबिनेट मंत्री कार्यक्रम में शामिल होंगे. बतातें चलें कि श्रीकृष्ण सेतु के उद्घाटन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा स्थानीय सांसद सह जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह, दोनों उपमुख्यमंत्री क्रमश: तारकिशोर प्रसाद एवं रेणु देवी, पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन के अलवा कई अन्य मंत्री, विधान पार्षद एवं स्थानीय विधायक कार्यक्रम में शामिल होंगे. इसको लेकर प्रशासन एवं एनएचएआई द्वारा व्यापक तौर पर तैयारी हो गई है.

अब मुंगेर से बेगूसराय आना-जाना आसान होगा

अब मुंगेर से बेगूसराय आना-जाना आसान होगा. यह एनएच-31 से मिलेगी. वर्तमान में राजेन्‍द्र सेतु को भारी वाहनों के लिए बंद किया गया है, जिसके कारण वाहनों को मुंगेर से बेगूसराय जाने के लिए भागलपुर से नवगछिया होते हुए जाना पड़ रहा था. इस पुल से आवागमन चालू होने से विक्रमशिला सेतु पर दबाव कम होगा. इस पुल का शिलान्यास तत्‍कालीन प्रधानमंत्री स्‍व अटल बिहारी वाजपेयी ने 26 दिसंबर 2002 में किया था. 2016 में इस पुल का नामाकरण स्वतंत्रता सेनानी एवं राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह के नाम पर किया गया था. इस पुल के निर्माण से मुंगेर उत्तर बिहार से सीधे जुड़ जाएगा तथा इससे क्षेत्र का विकास होगा.