26-September-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

बांका: धारदार हथियार से एक अधेड़ की हत्या मामले में हुई प्राथमिकी दर्ज,एक महिला समेत दो युवक को किया नामजद

Share This Post:


अमरपुर(बांका): अमरपुर थाना क्षेत्र के बल्लिकित्ता गांव में रविवार की रात्रि हुई एक अधेड़ की हत्या मामले में मृतक की पत्नी सुषमा देवी ने एक महिला समेत दो युवक को नामजद करते हुए तेज धारदार हथियार से अपने पति गीरो कापरी की हत्या कर देने का आरोप लगाया है। फर्द बयान में मृतक की पत्नी सुषमा देवी ने कहा है कि रविवार की संध्या मेरे पति अपने पुत्र राजेश कुमार उर्फ छोटु के साथ गन्ना बेचने के लिए भरको हाट गया था जहां से पुन: वापस आकर अपने खेतों से गन्ना काटकर ठेला वाहन पर बिक्री करने के लिए लोड कर रहा था तभी गांव के ही जयराम कापरी, रिकेश मांझी एवं सुनीता देवी तेज धारदार हथियार से मेरे पति के गर्दन एवं गले में प्रहार करते हुए मौत के घाट उतार दिया। जब मेरा पुत्र राजेश उर्फ छोटु शोर मचाते हुए अपने पिता को बचाने के लिए दौड़े तो सभी आरोपी पश्चिम दिशा की और भाग गये। आगे मृतक की पत्नी ने कहा है कि सभी आरोपित जबरन मेरे निज जमीन से रास्ते की मांग कर रहा था। रास्ता देने से हमलोगों ने मना कर दिया था जिस आक्रोश में आकर सभी आरोपित ने मेरे पति की हत्या कर दिया। थानाध्यक्ष मोहम्मद सफदर अली ने बताया कि मृतक की पत्नी के फर्द बयान पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी किया जा रहा है। जल्द ही सभी आरोपित सलाखों के पिछे होंगे।

पोस्टमार्टम के बाद शव पहुंचते ही परिजनों में मचा कोहराम

अमरपुर थाना क्षेत्र के बल्लिकित्ता गांव में जहां एक तरफ रविवार की रात्रि हुई एक अधेड़ की हत्या से ग्रामीण मर्माहत हैं तो वहीं दूसरी तरफ सोमवार के दिन पोस्टमार्टम के बाद शव बल्लिकित्ता गांव पहुंचते ही मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया। मृतक के परिजनों के चीत्कार से मौजुद ग्रामीण भी मर्माहत दिख रहे थे। मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने पुलिस अधिकारियों से हत्याकांड में शामिल लोगों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग किया। मौजुद ग्रामीणों ने बताया कि मृतक काफी मृदुल स्वभाव का व्यक्ति था। मृतक को दो पुत्र एवं दो पुत्री है। दोनों पुत्री के विवाह के लिए मृतक दिन रात मेहनत कर रहा था। ताकि पुत्रियों का विवाह संपन्न घराने में हो सके। गीरो कापरी की मौत के बाद पुरा परिवार बिखर गया है। मृतक का बड़ा पुत्र अवधेश कापरी बाहर रहकर मजदुरी करते हैं अब इन परिवार का भरण पोषण कैसे होगा यही सवाल ग्रामीणों के मन में कौंध रही है।