06-October-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

एनएच 80 पर टेंट में काम करने वाले मजदूर की गोली मारकर हत्या।

Share This Post:

भागलपुर : सबौर मार्ग बनता जा रहा अपराधियों का गढ़।एनएच 80 पर बदमाशों का मनोबल बढ़ता ही जा रहा है ।आए दिन वारदात पर वारदात होते चले जा रहे हैं।दो दिन पहले सोमवार की रात नालंदा के पिकअप चालक से बदमाशों ने लूटपाट के दौरान सबौर के शंकरपुर गांव के पास पिकअप वैन के ड्राइवर राहुल कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी थी, यह घटना अभी ठंडा भी नहीं हुआ था की उसी क्षेत्र के एक किलोमीटर के अंदर ही फिर गोलीबारी की एक घटना सामने आई ।ताजा मामला एनएच 80 सबौर प्रखंड के बगल के गांव में इंग्लिश गांव के पास का है। बताते चलें टेंट में काम करने वाले मजदूर पिंटू मंडल (उर्फ) शशि की गोली मारकर हत्या कर दी गई।
सबौर प्रखंड के ममलखा गांव में मलिक बस्ती के पास एनएच 80 पर बदमाशों ने बुधवार रात करीब 8:30 बजे काम करने वाले मजदूर की गोली मारकर हत्या कर दी ।मृतक पिंटू मंडल(उर्फ) शशि जिसकी उम्र 25 वर्ष है। यह ममलखा गांव का रहने वाला था और इंग्लिश गांव में काम कर साइकिल से घर लौट रहा था इसी दौरान उसकी हत्या हुई। हत्या के कारण का खुलासा अभी तक नहीं हो पाई है। घटना की जानकारी पाकर पुलिस मौके पर पहुंची मामले की जांच में जुट गई है। बदमाशों ने पिंटू को सिर के पीछे सटाकर गोली मारी है इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। परिजनों ने उसे उठाकर अस्पताल ले गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया ।छोटे भाई का कहना है मेरी भाई की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी आखिर यह कैसे हुआ कुछ समझ में नहीं आ रहा इससे पहले भी गत वर्ष मंझलें भाई की गंगा में डूबने से मौत हो गई थी । बताते चलें कि पिंटू तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। यह अविवाहित था और काम के साथ-साथ पढ़ाई भी कर रहा था ।गत वर्ष उसके मंझले भाई गोपाल मंडल की गंगा में डूबने से मौत हो गई थी और अब पिंटू की हत्या हो गई तीन भाइयों में सबसे छोटा चंदन बचा है। आखिर NH-80 पर प्रशासन लगाम क्यों नहीं लगा रही बदमाश बेखौफ क्यों घूम रहे हैं ,हर रात एक घटना क्यों होती है। अंधेरा होने के बाद वहां से लोग गुजरना भी मुनासिब नहीं समझते क्या यही सुशासन की सरकार है ?क्या यही अपना अपराध मुक्त बिहार है?