07-October-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

भागलपुर कोर्ट में दिखी अजब प्रेम की गजब कहानी..प्रेमी से प्रेमिका की माँ की हाथापाई,घंटो चला हाइवोल्टेज ड्रामा

Share This Post:

भागलपुर। साथ जीने मरने की कसम खाकर परिजनों से छुपकर अंतर्जातीय शादी रचाने वाले एक प्रेमी जोड़े को अपने परिजनों का ही कोप भाजन बनना पड़ा, और लड़की के परिजनों ने लड़की और लड़के को कोर्ट परिसर में ही पीटना शुरू कर दिया, दरअसल लखीसराय जिले के सूर्यगढ़ा प्रखंड के चकमसकन के सुरेश पंडित के 21 वर्षीय पुत्र सूरज कुमार अपनी प्रेमिका सूर्यगढ़ा के चमरूचक निवासी महिमा कुमारी के साथ भागलपुर के व्यवहार न्यायालय परिसर कोर्ट मैरिज करने पहुंची, इसी दौरान लड़की के परिजनों को जब इस बात की भनक लगी तो लड़की की मां और उसके परिजन कोर्ट परिसर पहुंचे और लड़की को जबरदस्ती अपने साथ ले जाना चाहा, लड़की और लड़के के द्वारा जब इसका विरोध किया जाने लगा तो लड़की की मां अमृता देवी और मामा अनिल साह ने दोनों की जमकर पिटाई, इस दौरान कोर्ट परिसर में घंटों हाई वोल्टेज ड्रामा चला.

हालांकि कोर्ट परिसर में हो रहे हंगामे की जानकारी मिलते ही जोगसर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जानकारी लेते हुए दोनों पक्षों को शांत कराया, वहीं इस पूरे मामले पर लड़का सूरज कुमार ने बताया कि वे दोनों इंटर में एक साथ पढ़ाई कर रहे थे, और इसी दौरान दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई और पिछले 5 वर्षों से दोनों प्रेमी प्रेमिका के रूप में एक दूसरे से घरवालों से छुप छुप कर मिला करते थे, इस दौरान लड़की छठ पर्व में अपने ननिहाल सुल्तानगंज के महेशी पहुंची.

जिसके बाद लड़का भी अपने मौसी के घर नाथनगर आया और दोनों छठ पर्व के बाद नाथ नगर के प्रसिद्ध मनासकामना नाथ मंदिर में शादी भी कर लिया, और इसके बाद भागलपुर व्यवहार न्यायालय के नोटरी पब्लिक के सामने शपथ पत्र देते हुए शादी की ओर शादी के रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन दिया था, इसके बाद आज लड़का और लड़की दोनों कोर्ट मैरिज करने भागलपुर व्यवहार न्यायालय पहुंचे थे.

हालांकि अभी तक एक और जहां लड़का पक्ष एक और जहां शादी के लिए अडा हुआ है ,वहीं लड़की पक्ष किसी भी हालत में शादी नहीं होने देने की बात कर रहे हैं, क्योंकि मामला अंतरजातीय विवाह का है।