10-December-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Bhagalpur: दिवाली की रात छत से गिरी प्रेग्नेंट महिला की अस्पताल में मौत, ससुरालवालों पर दहेज हत्या का है आरोप

Share This Post:

BHAGALPUR: बिहार के भागलपुर में दिवाली की रात घायल हुई महिला की गुरुवार को मौत हो गई. मौत को लेकर ससुराल पक्ष और मायके पक्ष आमने सामने हैं. लड़की के परिजन का आरोप है कि लड़की को दहेज के लिए दिवाली की रात मारा पीटा गया था. वहीं ससुराल वालों का कहना है कि वह छत से गिरकर घायल हुई थी. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. दोषियों पर कार्रवाई करने की बात कह रही है.

दिसंबर 2021 में हुई थी शादी

पूर्णिया के रुपौली लालबाग के रहने वाले गणेश प्रसाद शाह की 22 वर्षीय पुत्री नेहा कुमारी की शादी 6 दिसंबर 2021 को नवगछिया नयाटोला के रहने वाले सुबोध शाह के बेटे पप्पू के साथ हुई थी. परिजनों का कहना है कि शादी में सब कुछ दिया गया था. दहेज और कई उपहार भी दी गई थी, लेकिन लगातार पति और ससुराल वालों की ओर से पांच लाख रुपया दहेज की मांग की जा रही थी. लगातार उसे प्रताड़ित किया जा रहा था.

छत से गिरने पर हुई थी घायल

बताया जाता है कि दिवाली की रात नेहा के पति, ससुर, सास, और ननद ने नेहा की जमकर पिटाई की जिससे उसके शरीर की कई जगहों की हड्डी टूट गई. उधर, पति का कहना हुआ कि वह छत से गिर गई थी. सूत्रों की मानें तो मामला दहेज प्रताड़ना का लग रहा है. वहीं नेहा के परिजन भी दहेज प्रताड़ना की बात कर रहे हैं. उनका कहना है कि मेरी बेटी ने कई दफे फोन पर बताया था कि मुझे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता है. पुलिस जांच में जुट गई है. जल्द दोषियों को सजा दी जाएगी.

पांच लाख दहेज के लिए मिलकर मेरी बेटी को मारा

नेहा की शादी को अभी साल भी पूरे नहीं हुए हैं. नेहा के परिजनों का कहना कि दिवाली की रात दहेज को लेकर पति, ससुर, सास, ननंद के द्वारा नेहा की जमकर पिटाई की गई. इससे उसके शरीर के कई जगहों के हड्डी तक टूट गए थे. इलाज के क्रम में गुरुवार को उसकी मौत हो गई. नेहा के परिवार वालों का कहना है कि दहेज के लिए ही ससुराल वालों ने उनकी बेटी की हत्या की है. उनकी बेटी चार माह की गर्भवती थी.

पति ने अपनी सफाई में कहा दहेज प्रताड़ना का आरोप गलत है

पति का कहना है कि उसकी पत्नी दिवाली की रात छत से गिर गई थी. इसके कारण शरीर के पिछले हिस्से में फ्रैक्चर हो गया था. उसका इलाज एक निजी नर्सिंग होम में कराया जा रहा था और ऑपरेशन के बाद उसकी मौत हो गई. दहेज को लेकर पति का कहना है कि न तो शादी में उन्होंने दहेज लिया है और न ही दहेज की कोई मांग की गई थी. जबकि परिजन साफ तौर पर कह रहे हैं कि उनकी बेटी को दहेज के लिए ससुराल वालों ने मारा है.

पुलिस कर रही मामले की तहकीकात

पुलिस ने मामला दर्ज कर महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है. ततारपुर थाना अध्यक्ष पूर्णेन्दु कुमार ने बताया कि परिजनों का बयान दर्ज कर आगे की कार्रवाई के लिए नवगछिया पुलिस को भेज दिया गया है. जल्द दोषियों को सजा दी जाएगी.