05-October-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

भागलपुर: अतिक्रमण हटाने गए सीओ और पुलिसकर्मियों पर ग्रामीणों ने किया पथराव, उग्र भीड़ को देखकर खेत के रास्ते से उलटे पांव भागी पुलिस।

Share This Post:

भागलपुर: भागलपुर में गोराडीह थाना क्षेत्र के छोटी मोहनपुर गांव में सोमवार की शाम करीब 4 बजे अतिक्रमण हटाने के दौरान जमकर बवाल हुआ है| वहीं इस दौरान ग्रामीणों ने अतिक्रमण हटाने गए अंचलाधिकारी और पुलिसकर्मियों को तकरीबन आधा किलोमीटर तक खदेड़ा इसके बाद भी जब ग्रामीणों का मन नहीं भरा तो पुलिस कर्मियों पर ग्रामीणों ने पथराव कर दिया| वहीं भीड़ के उग्र रूप को देखते हुए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को अपनी जान बचाकर भागना पड़ा। जबकि इस मामले में अंचल अधिकारी नवीन कुमार भूषण के बयान पर देर शाम छोटी मोहनपुर गांव के करीब 13 लोगों के विरुद्ध नामजद एवं 50 अज्ञात लोगों को आरोपित बनाकर सरकारी कार्य में बाधा डालने को लेकर प्राथमिकी दर्ज होने की बातें कही जा रही है| बताया जा रहा है कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी भी कर रही है|

अतिक्रमणकारियों के कब्जे से सरकारी जमीन मुक्त कराकर सड़क बनवाने पहुंचे थे सीओ और थानाध्यक्ष,ग्रामीणों ने पथराव कर खदेड़ा।

जानकारी के अनुसार मोहनपुर पंचायत के छोटी मोहनपुर गांव में मनरेगा योजना के तहत सड़क बनाई जा रही है। इसी क्रम में कुछ ग्रामीणों द्वारा सड़क निर्माण को जबरन रोक दिया गया था| कहा जा रहा है कि सड़क बनने वाली जगह पर अतिक्रमण को लेकर विवाद था। वहीं ठेकेदार ने अतिक्रमण की शिकायत अंचल कार्यालय से की थी। इसके बाद अंचलाधिकारी नवीन कुमार भूषण ने अंचल अमीन खुशबू कुमारी द्वारा जमीन की मापी भी करवाई थी। इसके बाद राजस्व कर्मचारी निताय कुमार घोष के जांच प्रतिवेदन में उक्त जमीन को सरकारी एवं अतिक्रमित पाई गई थी। इसके उपरांत अंचल अधिकारी नवीन कुमार भूषण थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार और अंचल अमीन खुशबू कुमारी के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल लेकर पहुंचे हुए थे| इस दौरान अधिकारियों ने उक्त जमीन से अतिक्रमण हटाकर सड़क निर्माण भी करवाना शुरू कर दिया था।लेकिन ग्रामीण पप्पू कुमार से किसी बात को लेकर थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार की नोक-झोंक हो गई | तभी विवाद इतना बढ़ गया कि यह मामला मारपीट तक पहुंच गया| इसके बाद कुछ लोग लाठी डंडे लेकर घर से निकाल पड़े| पुलिस के उग्र तेवर के बाद ग्रामीण भी उग्र हो गए | इसी दौरान मामला बिगड़ता देखकर सीओ और पुलिसकर्मी वहां से भागने लगे| इसके बाद ग्रामीणों ने सभी को खदेड़ते हुए पथराव कर दिया|

प्रत्यक्षदर्शी पप्पू कुमार ने थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार पर दुर्व्यवहार और पिटाई का लगाया आरोप।

वहीं इस बारे में पप्पू कुमार ने बताया कि पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में सड़क का निर्माण हो रहा था| शौचालय से आने के क्रम में वह करीब 200 फीट की दूरी पर ही खड़े होकर निर्माण कार्य देखने लगे। इसी बीच थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार ने उनके साथ गाली – गलौज करना शुरू कर दिया| पप्पू कुमार की मानें तो जब उन्होंने इसका विरोध किया तो थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार ने उनको पीटना शुरू कर दिया| यही नहीं बीच – बचाव करने अाई पप्पू की मां नीलम देवी और बहन करीना कुमारी को भी पुलिस ने पीटा है। जिसके बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए। आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस के ऊपर पथराव कर दिया। हालांकि इस पथराव में अभी तक किसी पुलिसकर्मी के चोटिल होने की बात सामने नहीं आई है। लेकिन बताया जा रहा है कि ग्रामीणों का आक्रोश देखकर पुलिसवालों को बंदूक तान कर पीछे हटना पड़ा था| इन सब के बीच कुछ ग्रामीणों ने बताया कि इस पथराव में कुछ पुलिस कर्मी और अंचल कर्मी घायल हो गए हैं| लेकिन इसकी कोई प्रशासनिक स्तर पर पुष्टि नहीं हो पाई है| इस बारे में थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार ने बताया कि कुछ दबंगों द्वारा सड़क का काम रोकने की सूचना पर अंचलाधिकारी के साथ वह कई पुलिस कर्मियों के साथ वहां पहुंचे हुए थे| इसी दौरान कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा सरकारी काम में बाधा पहुंचाने के लिए प्रशासनिक टीम पर पथराव किया गया है| जबकि अंचलाधिकारी नवीन कुमार भूषण ने कहा कि अतिक्रगण हटाकर मनरेगा के तहत टोला सड़क निर्माण के लिए, पुलिस के साथ वह छोटी मोहनपुर ग्राम पहुंचे थे। लेकिन कुछ ग्रामीणों ने आक्रोशित होकर पथराव शुरू कर दिया। अंचलाधिकारी की मानें तो पथराव करने वालों में अधिकतर महिलाएं थीं। इसलिए सुरक्षा के लिहाज से उन लोगों को पीछे हटना पड़ा|


यह भी पढ़े-नवगछिया में रफ्तार का दिखा “रौद्र रूप,बेकाबू ट्रक ने बाइक सवार युवक को रौंदा”,हुई दर्दनाक मौत,पढ़े पूरी रिपोर्ट संक्षिप्त में..।।

यह भी पढ़े-भागलपुर: कांग्रेस नेता अजीत शर्मा ने नीतीश कुमार ,जीतन राम मांझी और मुकेश सहनी को महागठबंधन में शामिल होने का दिया निमंत्रण,पढ़े पूरी रिपोर्ट संक्षिप्त में..।।