29-September-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

भागलपुर: विश्व पर्यावरण दिवस पर भागलपुर में हुआ कई कार्यक्रमों का हुआ आयोजन,लगाए गए सैकड़ो वृक्ष।

Share This Post:

भागलपुर: पर्यावरण के प्रति वैश्विक स्तर पर राजनीतिक और सामाजिक चेतना लाने के उद्देश्य से, संयुक्त राष्ट्र संघ के द्वारा 5 जून 1974 से विश्व पर्यावरण दिवस मनाए जाने की पहल की शुरुआत की गई थी, जिसको लेकर आज भागलपुर जिले में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया गया, इसी कड़ी में तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के कुलपति के द्वारा वृक्षों के देखभाल को लेकर अनूठी पहल ” वृक्ष लगाओ, वृक्ष पालो ” अभियान की शुरुआत की गई, और विश्वविद्यालय परिसर में सैकडों वृक्ष लगाए गए, राष्ट्रीय सेवा योजना के बैनर तले आयोजित कार्यक्रम के दौरान कुलपति प्रोफेसर डॉ नीलिमा गुप्ता, विश्वविद्यालय के अधिकारी और कर्मचारी एवं एनएसएस के छात्र छात्राओं ने भाग लेते हुए सैकड़ों वृक्ष लगाए, इस दौरान कुलपति ने कहा कि बड़ी संख्या में प्रत्येक वर्ष अलग-अलग संस्थाओं के द्वारा वृक्षारोपण किया जाता है लेकिन रखरखाव के अभाव के कारण अधिकतर पेड. मर जाते हैं, इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है ,इसी को लेकर इस अभियान की शुरुआत की गई है ,और जो भी अधिकारी, कर्मचारी और छात्र-छात्राएं पेड़ लगाएंगे उनकी जिम्मेवारी रहेगी कि वह इसकी देखभाल करें, जिसको लेकर जो पेड़ जिसके द्वारा लगाया जाएगा उसका नाम उस पेड़ के जाली पर लिखा जाएगा और यदि कोई पेड़ मर जाता है ,तो उस अधिकारी, कर्मचारी और छात्र छात्राओं का यह दायित्व रहेगा, कि वह उसके जगह नया पेड़ लगाएं या फिर उसको जीवित करें ,मेरे द्वारा समय-समय पर लगाए गए वृक्षों का निरीक्षण किया जाएगा।

विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान विश्वविद्यालय के कई अधिकारी ,कर्मचारी और एनएसएस के छात्र छात्राएं मौजूद थे, वहीं जिला विधि सेवा प्राधिकार भागलपुर के बैनर तले भागलपुर व्यवहार न्यायालय परिसर में वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, इस दौरान न्यायिक व्यवस्था से जुड़े कई पदाधिकारी मौजूद थे, भागलपुर की सामाजिक संस्था सक्षम फाउंडेशन के द्वारा कोतवाली थाना परिसर में पेड़ लगाए गए, भागलपुर जिले के स्टेट बैंक के प्रत्येक शाखाओं के द्वारा अलग-अलग जगहों पर 10-10 पेड़ ग्लोबल वार्मिंग को देखते हुए लगाया गया…