26-September-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

कोरोना काल में भी स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही धज्जियां!

Share This Post:

रिपोर्ट/ओमप्रकाश झा भागलपुर सबौर : कोरोना काल में जहां स्वच्छता का विशेष ध्यान रखने की कवायद हो रही है वहीं प्रखंड के चकबंदी कार्यालय में कुड़ों का ढेर लगा है। जहां दर्जन भर से ज्यादा सुअरों का स्थाई बसेरा हो गया है। बदबू से आसपास के लोगों का जीना दुश्वार हो गया है। स्वच्छ भारत की हकीकत यह है कि सड़ांध से महामारी फैलने की स्थिति हो गई है। बारिश के कारण कुड़े में छोटा- छोटा किड़े हो गया है।
सनद हो की यह कोई नई स्थिति नहीं है। चकबंदी कार्यालय अतिक्रमण से ऐसे ही कराह रहा है । उस पर वहां कुड़े का अंबार लगा हुआ है। आसपास के लोग बेझिझक कुड़ा फेकते हैं। बगल में प्रखंड संसाधन केंद्र, बालिका मध्यविद्यालय, पोस्ट ऑफिस और बाजार है। लोगों का आना जाना लगा रहता है। आने जाने वाले लोग नाक बंद कर पार करते हैं। लेकिन प्रखंड से पंचायत तक साफ सफाई का प्रयास तक नहीं किया जा रहा है। जिससे लोगों के बीच सरकार के प्रति नाराजगी दिख रही है।
उधर प्रखंड कार्यालय के पशु अस्पताल में भी कुड़ा का अंबार महामारी को निमंत्रण दे रहा है। अर्थात यूं कहें की सबौर में स्वच्छ भारत अभियान की धज्जियां उड़ रही है। कुड़े की ढेर पर चकबंदी कार्यालय और मजे की बात यह है कि शाम होते ही शराबियों का जमात लगा रहता है और यह प्रक्रिया शाम के 6:00 बजे से रात्रि 10:00 बजे तक चलते रहता है इस मामले में थाना अध्यक्ष सुनील कुमार झा ने बताया कि इस मामले को लेकर कई बार शराबियों का गिरफ्तारी भी हो चुकी है लेकिन लोग शराब पीने से बाज नहीं आते हैं इधर अंचल कार्यालय के अंचल निरीक्षक प्रमोद तिवारी कहते हैं की हम लोग जब कार्यालय सुबह आते हैं तो इसके बदबू से हम लोग काफी परेशान हैं लेकिन मजबूरी में कार्यालय खोलना पड़ता है

इस समस्या के समाधान के लिए कई बार कर्मचारी ने अंचल अधिकारी को लिखित आवेदन देकर कहा है कि उक्त कूड़े के अनवार से बदबू आ रही है और कर्मचारी को ऑफिस में बैठने मे मुश्किल आ रही है का विशेष ध्यान रखने की कवायद हो रही है वहीं प्रखंड के चकबंदी कार्यालय में कुड़ों का ढेर लगा है। जहां दर्जन भर से ज्यादा सुअरों का स्थाई बसेरा हो गया है। बदबू से आसपास के लोगों का जीना दुश्वार हो गया है। स्वच्छ भारत की हकीकत यह है कि सड़ांध से महामारी फैलने की स्थिति हो गई है। बारिश के कारण कुड़े में छोटा- छोटा किड़े हो गया है।
सनद हो की यह कोई नई स्थिति नहीं है। चकबंदी कार्यालय अतिक्रमण से ऐसे ही कराह रहा है । उस पर वहां कुड़े का अंबार लगा हुआ है। आसपास के लोग बेझिझक कुड़ा फेकते हैं। बगल में प्रखंड संसाधन केंद्र, बालिका मध्यविद्यालय, पोस्ट ऑफिस और बाजार है। लोगों का आना जाना लगा रहता है। आने जाने वाले लोग नाक बंद कर पार करते हैं। लेकिन प्रखंड से पंचायत तक साफ सफाई का प्रयास तक नहीं किया जा रहा है। जिससे लोगों के बीच सरकार के प्रति नाराजगी दिख रही है।
उधर प्रखंड कार्यालय के पशु अस्पताल में भी कुड़ा का अंबार महामारी को निमंत्रण दे रहा है। अर्थात यूं कहें की सबौर में स्वच्छ भारत अभियान की धज्जियां उड़ रही है। कुड़े की ढेर पर चकबंदी कार्यालय और मजे की बात यह है कि शाम होते ही शराबियों का जमात लगा रहता है और यह प्रक्रिया शाम के 6:00 बजे से रात्रि 10:00 बजे तक चलते रहता है इस मामले में थाना अध्यक्ष सुनील कुमार झा ने बताया कि इस मामले को लेकर कई बार शराबियों का गिरफ्तारी भी हो चुकी है लेकिन लोग शराब पीने से बाज नहीं आते हैं इधर अंचल कार्यालय के अंचल निरीक्षक प्रमोद तिवारी कहते हैं की हम लोग जब कार्यालय सुबह आते हैं तो इसके बदबू से हम लोग काफी परेशान हैं लेकिन मजबूरी में कार्यालय खोलना पड़ता है

इस समस्या के समाधान के लिए कई बार कर्मचारी ने अंचल अधिकारी को लिखित आवेदन देकर कहा है कि उक्त कूड़े के अंबारा से बदबू आ रही है और कर्मचारी को ऑफिस में बैठने मे मुश्किल आ रही है