10-December-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Bhagalpur: महिला ने पहले पति को छोड़ दूसरे से रचाया विवाह, अब तीसरे पर आया दिल, शादी के लिए धरने पर बैठी

Share This Post:

BHAGALPUR: जिले के नवगछिया में एक महिला पर इश्क का भूत इस कदर सवार हुआ कि उसने सारी हदें पार कर दी. महिला ने अपने पहले पति को छोड़ दूसरे पति से शादी रचाई. इसके बाद महिला का दिल किसी तीसरे पर आ गया. महिला उसके साथ भाग गई. मामला नवगछिया के ढोलबज्जा का है. मंगलवार की शाम कदवा की एक शादीशुदा महिला अपने ढोलबज्जा के एक प्रेमी युगल के घर धरने पर बैठ गई. देखते ही देखते वहां सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई. लोगों ने पूछताछ की तो पूरा मामला खुला

सड़क निर्माण कार्य के दौरान प्यार

महिला से पूछताछ करने पर कहा कि उसकी पहली शादी पंचगछिया टोला कदवा के एक लड़के से हुई थी. उसे छोड़ने के बाद युवती की दूसरी शादी खगड़िया के पसराहा थाना क्षेत्र अंतर्गत महदीपुर गांव के एक युवक से पांच साल पहले कराई गई. इसी बीच करीब ढाई साल पहले युवती के गांव कासिमपुर कदवा में सड़क निर्माण कार्य के दौरान तीसरे व्यक्ति से प्यार हो गया. यहां ढोलबज्जा निवासी उमेश भगत के आशिक मिजाज पुत्र संतोष भगत मुंशी का काम करते थे. इसी दौरान शादीशुदा महिला से धीरे-धीरे उसके नैना चार हो गए. फिर क्या था पत्नी ने अपने एक बच्चे के साथ-साथ पति को भी छोड़ दिया. प्रेमी संतोष की भी शादी हो चुकी है. वह अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ धोखा करके करीब ढाई साल से महिला के साथ अय्याशी करता रहा.

शादी की बात कहकर बनाया संबंध

इधर, मामला बिगड़ता देख ग्रामीणों ने दोनों प्रेमी युगल का ढोलबज्जा के पंचायत भवन में समझौता कराने का प्रयास किया. वहां कासिमपुर की लड़की ने बताया कि संतोष ने उसका मेहंदीपुर का ससुराल छुड़वाकर नवगछिया के मिल टोला में छह महीने और नया टोला में तीन महीने अशोक सिंह के घर रखा था. उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया. शादी का झांसा देकर साथ-साथ जीने मरने की कसमें खाई. दस दिन से जब दोनों के बीच झगड़े होने लगे तो संतोष ने अपनी प्रेमिका को बहला-फुसलाकर छोड़ने का फैसला ले लिया.

प्रेमी से शादी के लिए धरने पर बैठी

नवगछिया में मकान लेकर रखी गई युवती अपने प्रेमी की खोज में ढोलबज्जा पहुंच गई. वहां वह धरने पर बैठ गई. प्रेमी युगल के घर बैठी युवती से कुछ स्थानीय लोगों ने पूछताछ कर उसके ठिकाने पर जाने और रात भर उसके ठहरने का इंतजाम किया. इसी बीच संतोष भगत ने युवती को अपने किसी परिजन के माध्यम से बुलाकर बिहारीगंज ले गया. वहां से दोनों वापस पहुंचे और रास्ते में ही चौसा के दुर्गा मंदिर में प्रेमी जोड़े ने एक साथ जीने मरने की कसम खाई और लड़की को फिर से नवगछिया के उसी भाड़े की मकान में छोड़ने की बात कहकर ले गया.

प्रेमी फिर हो गया फरार

इसके बाद रास्ते में ही प्रेमी ने प्रेमिका के हाथों में हेलमेट थमाया और पेट्रोल भराने का बहाने बनाकर फरार हो गया. इधर, युवती प्रेमी के घर पहुंचकर धरने पर बैठ गई. मामला गंभीर होता देख स्थानीय लोगों ने दोनों प्रेमी जोड़े को ढोलबज्जा थाना पहुंचाने का प्रयास किया. लिखित शिकायत नहीं मिलने और ग्रामीणों के द्वारा आपसी समझौते के बाद लड़की के परिजन उसे घर वापस ले गए. बताया जा रहा कि लड़का पक्ष की ओर से आर्थिक मदद दिलाने के बाद मामले में समझौता हुआ है.

आवेदन मिलने पर पुलिस करेगी कार्रवाई

वहीं लड़की आखिरी दम तक इस समझौते को मानने को तैयार नहीं थी. थानाध्यक्ष प्रभात कुमार ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है. लिखित आवेदन किसी पक्ष ने नहीं दिया है. शिकायत मिलने पर उचित कार्रवाई की जाएगी.