07-October-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

भागलपुर: सृजन घोटाला मामले में तीन महिला गिरफ्तार,कोर्ट ने जारी किया था वारंट,सीबीआई टीम ने धर दबोचा

Share This Post:

भागलपुर। बहुचर्चित भागलपुर के सृजन घोटाला मामले में सीबीआई की कार्यवाही तेज हो गई है. मामले में तीन महिला को गिरफ्तार किया है. ये तीनों सृजन घोटाले के सूत्रधार और सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड के पदधारक बतायी जा रही है.सीबीआई ने तीनों को प्रभारी मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी परवल दत्ता के कोर्ट में पेश किया.जहां से सभी को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के बाद पटना सीबीआई कोर्ट में पेश करने के लिए टीम रवाना हो गई.

गिरफ्तार आरोपियों में सहयोग समिति की पद धारक दीपक वर्मा की पत्नी अपर्णा वर्मा, भाभी राजरानी बर्मा और जेशीमा खातून शामिल है. बैंक अधिकारियों और सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड के कर्मचारियों की मिलीभगत से 25 सौ करोड़ रुपए के बिहार का सबसे बड़े घोटाला सृजन घोटाला हुआ. इस मामले की जांच करने के लिए 7 सदस्यीय सीबीआई की टीम भागलपुर पहुंची. जहां सबौर पुलिस की मदद से अपर्णा वर्मा और राजरानी वर्मा को सबौर स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया, जबकि जैशीमा खातून को तातारपुर स्थित उसके आवास से धर दबोचा गया.

तीनों को गिरफ्तार करने के बाद सीबीआई की टीम स्वास्थ्य परीक्षण के लिए सदर अस्पताल ले गई जहां से हेल्थ चेकअप कराने के बाद तीनों को भागलपुर कोर्ट में पेश किया गया. तीनों महिला सृजन महिला विकास सहयोग समिति की कार्यकारिणी में थी और घोटाले की मास्टमाइंड भागलपुर की मौसी मनोरमा देवी की खास थी. अपर्णा वर्मा व राजरानी और जसीमा खातून के घर पर सीबीआई की टीम ने अगस्त में दबिश दी थी. सीबीआई आने की सूचना पर तीनों महिला पिछले दरवाजे से फरार हो गई थी.