30-November-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

बिहार में बनेंगे 120 नए बाइपास, बेगूसराय में सबसे अधिक 11, दो साल में ही होगा निर्माण पूरा

Share This Post:

पटना : बिहार में 120 नए बाइपास का निर्माण होना है। इन बाइपास के निर्माण पर कुल 4410 करोड़ खर्च किया जाना है। यह मौजूद समय का प्रस्तावित बजट है। योजना में देर होने पर बजट और बढ़ जाएगा। सभी बाइपास का निर्माण अगले दो साल में पूरा कर लिया जाना है। सुलभ संपर्क परियोजना के तहत शहरी क्षेत्र में जो बाइपास बनाए जाएंगे, वो कम-से-कम सात मीटर चौड़े होंगे। ताकि वाहनों के आवागमन में सुविधा हो।

सूबे में सबसे अधिक बेगूसराय जिले में 11 नए बाइपास का निर्माण किया जाना है। इसकी लंबाई 20.10 किलोमीटर होगी। जबकि सबसे लंबा बाइपास कैमूर में बनेगा। यहां छह बाइपास नेंगे। इनकी कुल लंबाई 52 किलोमीटर होगी। वहीं कटिहार में चार बाइपास ही बनेंगे, मगर सबसे ज्यादा खर्च यहीं निर्माण पर होना है। इस जिले में 33 किलोमीटर लंबे केवल बाइपास पर 419 करोड़ रुपए खर्च होना प्रस्तावित है। बता दें 38 में से 37 जिलों में नया बाइपास बनाया जा रहा है, सिर्फ लखीसराय में एक भी बाइपास नहीं बनेगा।

उन्हीं सड़कों को बाइपास बनाया जा रहा, जिसे चौड़ा करने में सहूलियत
सूबे के अलग-अलग जिलों में हर दिन लग रहे जाम से छुटकारा दिलाने के लिए यह मेगा परियोजना शुरू की गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आदेश पर ग्रामीण कार्य विभाग और नगर निकायों ने बाइपास बनाने के लिए उन्हीं सड़कों का चयन किया है, जिन्हें आसानी से चौड़ा किया जा सके। खास बात है कि सिंचाई विभाग के अंतर्गत आने वाले तटबंधों को भी सड़क के रूप में विकसित किए जाने की योजना है। जिस जिले में किसी भी विभाग की सड़क नहीं है, वहां ग्रीन फील्ड सड़क बनाई जाएगी। इसका मतलब है कि नई सड़क बना, उसे बाइपास भी बनाया जाएगा। यह भी कहा गया है कि सड़क निर्माण में बाधा आने पर पुरानी सड़क को ही एलिवेटेड सड़क बना दो। अधिकारियों का कहना है कि बाइपास के चयन में इस बात का पूरा ख्याल रखा गया है कि जमीन अधिग्रहण वाले मामले नहीं आए, क्योंकि सभी बाइपास का निर्माण हर हाल में तय समय सीमा में ही पूरा किया जाना है।

यहां-यहां किया जाना है निर्माण
जिले बाइपास की संख्या लंबाई लागत
पटना 3- 7.50- 25
बेगूसराय 11 – 20.10 – 134
कैमूर 6 – – 52.58- 142
अरवल 4 – 12.68- 33.78
सुपौल 1 – 10.20- 47.39
प. चम्पारण 2 – 2.70 – 85
सीवान 2 – 19.42- 81
बक्सर 4 – 19.65 – 150.33
भागलपुर 4 – 49.05 – 173
भोजपुर 6 – 34.63 – 193
पूर्वी चम्पारण 3 – 25.80 – 340
वैशाली 5 – 34.65 – 91.40
कटिहार 4 – 33.16 – 419
मधेपुरा 4 – 13.75 – 53
खगड़िया 3 -8.10 – 19.50
पूर्णिया 5 – 32.55 – 106.26
शिवहर 2 – 8.67 – 45
रोहतास 5 – 13.10 – 104
बांका 1 – 13.20 – 40
नवादा 1 – 11 -127.15
जमुई 1 – 3.40 – 20.31
सीतामढ़ी 2 – 7.25 – 136.50
मुजफ्फरपुर 1 – 21.10 – 345
गोपालगंज 5 – 13.70 – 43.70
समस्तीपुर 3 – 26.31 – 107.80
सारण 5 – 37.20 – 491.12
सहरसा 4 – 15.20 – 20.30
औरंगाबाद 3 – 15 – 46.18
दरभंगा 3 – 24.70 – 73.50
गया 3 – 24.55 – 53.84
नालंदा 4 – 15.23 – 80
किशनगंज 1 – 3 – 9
अररिया 1 – 5 – 29
जहानाबाद 1 – 1.80 – 50
मधुबनी 4 – 47.10 – 150
मुंगेर 2 – 18.10 – 66
शेखपुरा 1 – 7.40 – 22