28-November-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Attack on Nitish Kumar Carcade: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कारकेड पर पथराव मामले में बड़ी कार्रवाई, 13 लोग गिरफ्तार

Share This Post:

BIHAR: गौरीचक थाना के सोहगी मोड़ पर रविवार की शाम करीब पांच बजे सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के कारकेड पर हुए हमले के बाद इस मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कुल 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों (SSP Manavjit Singh Dhillon) ने पुष्टि की है. शेष लोगों की भी पहचान करने और गिरफ्तार करने की कार्रवाई चल रही है.

गौरतलब है कि रविवार की शाम पांच बजे के आसपास एक घटना को लेकर आक्रोशित हुए लोग सड़क जाम कर रहे थे. इसी दौरान कुछ उपद्रवी तत्वों द्वारा

मुख्यमंत्री के खाली कारकेड की चार गाड़ियों को निशाना बनाया गया. पथराव कर क्षतिग्रस्त दिया गया. शीशे तोड़ दिए गए. इस घटना की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी चंद्रशेखर और वरीय पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लों घटनास्थल पर पहुंचे. उपद्रवियों पर लाठियां चलाकर खदेड़ा. वीडियो और सीसीटीवी फुटेज के आधार लोगों की पहचान की गई और 13 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

गौरीचक में क्यों गुस्साए थे लोग?

आठ अगस्त को सावन की अंतिम सोमवारी के दिन गौरीचक थाना के सोहगी गांव का लगभग 20 साल का एक लड़का सन्नी कुमार अपने परिवार के साथ रात के करीब दो बजे गाय घाट गंगा नदी के किनारे जल लेने गया था. उसके परिवार वालों ने सूचना दी थी कि सन्नी कुमार उसी समय से गायब हो गया था. पुलिस लगातार खोज रही थी. इसके बाद बादशाही नाले में उसकी लाश मिली. शव मिलने के बाद मृतक सन्नी कुमार के परिजनों और अन्य लोगों ने रोड जाम किया था. इसी रोड जाम के दौरान नीतीश कुमार का कारकेड गुजर रहा था जिसे देख लोग और आक्रोशित हो गए और हमला कर दिया.

पदाधिकारियों पर भी होगी कार्रवाई

बता दें कि नीतीश कुमार का कारकेड पटना से गया जा रहा था. इस घटना के बाद पटना के जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लिया है. अपर जिला दंडाधिकारी विधि व्यवस्था और पुलिस उपाधीक्षक, मुख्यालय की दो सदस्यीय टीम जांच के लिए बनाई गई है. 24 घंटे के अंदर जांच प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है. लापरवाही बरतने वाले पदाधिकारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी.