01-October-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Bihar: राजधानी में बड़ी वारदात, पुलिस सोती रही और पटना के एक ही अपार्टमेंट के 7 फ्लैट से करोड़ों ले उड़े चोर

Share This Post:

BIHAR: राजधानी पटना में चोरों ने तांडव मचाया है. राजधानी में चोरी की बड़ी वारदात हुई है. शातिरों ने एक ही अपार्टमेंट के अलग-अलग ब्लॉक के 7 फ्लैटों में चोरी की घटना को अंजाम दिया है. पटना के आनंदपुरी में सात फ्लैटों के सामान चोरों ने गायब कर दिए. इन फ्लैटों का का लॉक तोड़, उसे पूरी तरह से खंगाल दिया. चोरी की यह घटना पटना के आनंदपुरी इलाके में स्थित होप शिवालिक अपार्टमेंट में हुई है. हालांकि अपार्टमेंट में हुई चोरी की वारदात वहां लगे CCTV में कैद हो गई है.

CCTV में 5 चोर दिखे हैं. हालांकि सबने अपने चेहरे को नकाब लगाकर कवर कर रखा था. बताया जा रहा है कि चोरों ने होप सिवालिक अपार्टमेंट के जिन 6 7 फ्लैट्स में चोरी की घटना को अंजाम दिया है. वो सभी पिछले कुछ दिनों से खाली पड़े थे. इन फ्लैट्स में रहने वाले लोग किसी न किसी काम से अपने परिवार के साथ पटना से बाहर गए हुए थे. आनंदपुरी इलाके में स्थित होप शिवालिक अपार्टमेंट के जिन फ्लैट्स में चोरी हुई है. उनमें ब्लॉक B में फ्लैट नंबर 307, 406, ब्लॉक C में फ्लैट नंबर 210, 410 और ब्लॉक D में फ्लैट नंबर 113 और 214 शामिल हैं.

अपार्टमेंट में रहने वाले दूसरे लोगों ने चोरी की घटना की जानकारी केयर टेकर पिंटू वर्मा को दी. फिर उसने इसकी सूचना एसके पुरी थाना को दी. इसके साथ ही बुद्धा कॉलोनी और शास्त्री नगर थाना की पुलिस भी मौके पर जांच करने पहुंची. फ्लैट्स में रहने वाले लोगों के मुताबिक करोड़ों के सामान की चोरी हुई है.जिसमें खासकर गहने जेवरात की संख्या ज्यादा है. जिन सात फ्लैट्स में चोरी हुई है उनमें से एक फ्लैट की महिला के मुताबिक हमारे फ्लोर पर लगभग 50 लाख की चोरी हुई है.

बताया जा रहा है शनिवार की देर रात करीब 2 बजे के से सुबह 5 बजे तक चोरों ने चोरी की है. करीब 3 घंटे तक वो कैम्पस में घूम-घूम कर चोरी करते रहे. हालांकि किसी को भी इनकी भनक नहीं लगी कि पास में इतनी बड़ी चोरी की घटना हो रही है. आशंका है कि शातिरों ने करोड़ों की संपत्ति चोरी की है. मगर इसका सही आकलन फ्लैट में रहने वाले लोगों के वापस आने के बाद ही हो पाएगा. उसके बाद ही पता चलेगा कि किसके फ्लैट से कौन-कौन से कीमती सामानों की चोरी हुई है. सभी फ्लैट्स के लॉक को तोड़ने के लिए चोरों ने कटर का इस्तेमाल किया था.