27-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

बड़ी खबर: मधेपुरा में कार-बाइक की टक्कर में जिंदा जल गये तीन युवक, पप्पू यादव ने स्थानीय लोगों को बताया मौत का जिम्मेदार

Share This Post:

MADHEPURA: मधेपुरा जिले से बड़ी खबर है. मधेपुरा में भीषण सड़क हादसा हुआ है. इस हादसे में तीन युवकों की जिंदा जलकर मौत हो गयी है. यह घटना बुधवार की देर रात हुई है. बताया जा रहा है कि कार और बाइक की जोरदार टक्कर हो गयी, जिसके बाद आग लग गयी. मधेपुरा-सिंहेश्वर मुख्य मार्ग के पथराहा के समीप यह हादसा हुआ है. आग की चपेट में आने से बाइक पर सवार तीन युवक बुरी तरह से झुलस गए. जिसके बाद स्थानीय लोगों की मदद से तीनों युवकों को अस्पताल पहुंचाया गया. जहां प्राथमिक जांच के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.

जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने तीन युवकों की मौत का जिम्मेदार स्थानीय लोगों को बताया है. बताया जा रहा है कि बाइक पर सवार तीनों युवक बिहारीगंज से लौट रहे थे. इसी दौरान पथराहा के पास पहुंचते ही कार और बाइक की जोरदार टक्कर हो गयी. घटना के बाद आसपास के लोग आग बुझाने में लगे थे. इसी दौरान जाप सुप्रीमो पप्पू यादव का काफिला गुजर रहा था. सड़क पर लोगों की भीड़ देखकर पप्पू यादव रुक गये और तुरंत युवकों को अस्पताल भेजवाया.

इस हादसे पर पप्पू यादव ने स्थानीय लोगों पर आरोप लगाया है. पप्पू यादव ने कहा कि तीनों युवकों की मौत की जिम्मेदार ये पब्लिक है. मेरे आने से एक घंटे पहले ये एक्सीडेंट हुआ था. लेकिन स्थानीय लोग मूकदर्शक बनकर देख रहे थे. स्थानीय लोगों ने बचाने की कोशिश नहीं की. पप्पू यादव ने कहा कि कार और बाइक में आमने-सामने टक्कर होती है तो बाइक दूर चली जाती है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ है. इस घटना की जानकारी स्थानीय लोगों को होगी.

जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने तीन युवकों की मौत का जिम्मेदार स्थानीय लोगों को बताया है. उन्होंने कहा कि ये जांच का विषय है. सरकार इस घटना की अविलंब जांच कराए. मृतकों की पहचान सदर थाना क्षेत्र के मरुआहा के रहने वाले सानू कुमार और सिंहेश्वर के रहने वाले रवि कुमार व सुमन कुमार के रूप में हुई है. बताया जा रहा है सानू और सुमन रिश्ते में साला बहनोई लगते थे. इस भीषण हादसे के बाद मृतकों के घर में कोहराम मचा हुआ है. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.