25-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

बिहार की होनहार बेटी मिताली माउंट एवरेस्ट पर लहराएगी तिरंगा, लेकिन कुछ दिनों में चाहिए 35 लाख

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: बिहार की होनहार बेटी मिताली प्रसाद अफ्रीका की सबसे बड़ी चोटी माउंट किलिमंजारो पर तिरंगा लहराकर बिहार की पहली पर्वतारोही होने का गौरव हासिल किया है. लेकिन चंद पैसों के कारण आज उनके कदम लगभग रुक से गए हैं. मिताली ने सरकार से उम्मीद छोड़ दी है है क्योंकि इससे पहले किलिमंजारो पर्वत पर जाने से पहले भी सरकार से मदद मांगी थी पर कोई मदद नहीं मिली. अब मिताली प्रसाद का लक्ष्य सबसे बड़ी चोटी माउंट एवरेस्ट फतह करने का है.

बिहार के नालंदा की रहने वाली मिताली प्रसाद के सबसे बड़ी चोटी माउंट एवरेस्ट फतह करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए अगले कुछ दिनों में 35 लाख रुपए की जरुरत है. हालांकि कुछ नेता मिताली के साथ आए हैं. जाप सुप्रीमो पप्पू यादव की पार्टी के युवा प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने मिताली प्रसाद को कुछ आर्थिक सहायता दी है और उन्होंने सभी लोगों से राजनीतिक मतभेद भुलाकर बिहार की बेटी की सहायता करने की मांग की है.

मिताली प्रसाद ने कहा कि जिस स्टेट में पर्वतारोहन का कोई स्कोप नहीं है, उस स्टेट से इतनी अच्छी उपलब्धि रहना. जिसमें दूसरे राज्य वाले भी हैरान हो और यह सोचने पर मजबूर हो कि सच में स्टेट सरकार स्पांसर कर रही है या नहीं. उन्होंने कहा कि जब पास में इतनी अच्छी उपलब्धि हो तो ख़ुशी क्यों नहीं होगी. माउंट एवरेस्ट की चढ़ाई करने वाली है आपको परमिशन मिल गई. इस सवाल पर मिताली ने कहा कि सबकुछ क्लियर हो चुका है अगर अगले 25 दिनों में 35 लाख आ जाता है तो निश्चित रूप से 2022 में बिहार की कोई बेटी माउंट एवरेस्ट के लिए जाएगी.

जाप के युवा प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने मिताली प्रसाद को कुछ आर्थिक मदद देते हुए कहा कि यह बिहार के लिए बहुत ही गर्व की बात है. बिहार की बेटी और जो पहले भी माउंट किलिमंजारो की चढ़ाई कर चुकी है. उन्होंने कहा कि खासकर यह नालंदा से ताल्लुक रखती है. हम इनको तहेदिल से बधाई देते हैं. यह बहुत ही साहसिक कदम है. उन्होंने कहा कि बेटी होने के नाते इतनी बड़ी सोच रखती है उसके लिए मैं इन्हें सलाम करता हूं. जाप नेता ने कहा कि यह सिर्फ बिहार और नालंदा के लिए ही बल्कि पूरे देश के लिए गर्व की बात है.