27-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

पटना: JDU का बड़ा नेता बताने वाले हाईटेक शराब तस्कर बाप-बेटे गिरफ्तार, वॉट्सऐप-फेसबुक से लेते थे ऑर्डर

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: बिहार में शराबबंदी को सफल बनाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तमाम तरह के तरीके आजमा रहे हैं. वहीं शराब तस्कर भी तस्करी के लिए तरह-तरह के उपाय खोज रहे हैं. पटना से एक हाईटेक शराब तस्कर बाप-बेटे को गिरफ्तार किया गया है. दोनों वॉट्सऐप-फेसबुक से ऑर्डर लेते थे. सोमवार को पटना में दीघा पुलिस ने रामजीचक यादव गली से शराब और हथियार के धंधेबाज राजकिशोर राय और उसके बेटे राम कुमार राय को गिरफ्तार किया है.

हाईटेक शराब तस्कर के घर से करीब 2 लाख की शराब के साथ एक पिस्टल, एक राइफल, दो मैगजीन, 40 राउंड कारतूस बरामद किया गया है. पुलिस के मुताबिक दोनों ढाई साल से शराब का धंधा कर रहा था. पुलिस और लोगों को इस धंधे के बारे में पता नहीं चले इसके लिए राजनीतिक पार्टी का बोर्ड भी घर पर लगाया हुआ था. हैरान करने वाली बात तो यह है कि पिता ने ही बेटे को शराब तस्कर बनाया था. पिता के मुताबिक इस धंधे को चलाने के लिए एक विश्वसनीय व्यक्ति की जरूरत थी. इसलिए बेटा को इसमें लगा दिया था.

गिरफ्तार धंधेबाज खुद को जदयू पार्टी का दानापुर विधानसभा क्षेत्र का उपाध्यक्ष बताता था. हालांकि अभियुक्त का पार्टी से कोई लेना देना नहीं है. गिरफ्तार धंधेबाज राजकिशोर ने अपने मकान में ही गोदाम रखा था. वहीं शराब बेचने के लिए वॉट्सऐप और फेसबुक एप का इस्तेमाल करता था. फोन पर कोई बात नहीं होती थी, आरोपी ग्राहक को एप पर ही शराब की फोटो भेजा करता था. ऑर्डर होने के बाद डिलीवरी एजेंट के माध्यम से लोगों तक शराब पहुंचाया जाता था. इसके लिए हमेशा भाड़े की ही और महंगी गाड़ियों का इस्तेमाल किया जाता था ताकि लोगों को शक ना हो.

दीघा थाना प्रभारी राज कुमार पांडेय के मुताबिक़ गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि राजकिशोर राय अपने घर में विदेशी शराब की बड़ी खेप लाकर घर में भंडार किए हुए है. साथ ही घर में अवैध हथियार भी रखा हुआ है. इसी आधार पर टीम गठित कर छापेमारी की गई तो कमरे और छत से हथियार और शराब की बड़ी खेप बरामद हुई. उन्होंने बताया कि बरामद शराब और हथियार की जांच की जा रही है. जल्द ही अभियुक्तों को जेल भेज दिया जाएगा. बता दें कि राजकिशोर राय पहले भी तीन हत्या कांडों, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और आर्म्स एक्ट में जेल जा चुका है.