25-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

शराब की सूचना वाले आदेश को लेकर शिक्षकों में आक्रोश, कल राज्य भर में प्रदर्शन करेंगे बिहार के शिक्षक

Share This Post:

न्यूज डेस्क: अब बिहार के शिक्षक शराब पीने वाले और तस्करी करने वालों की सूचना देंगे. इसको लेकर सरकार की ओर से लेटर जारी कर दिया गया. जिसमें साफ निर्देश दिया गया है कि चोरी छिपे शराब पीने वाले और तस्करी करने वालों की सूचना मद्य निषेध विभाग को देनी होगी. जिसको लेकर सियासत भी तेज हो गई है. विपक्ष की ओर से इसका विरोध किया जा रहा है. वहीं सरकार के इस फैसले से शिक्षक भी नाराज हैं.

बिहार सरकार के शराबियों की मुखबिरी करने वाले आदेश ने शिक्षकों में आक्रोश बढ़ा दिया है. शिक्षा विभाग के इस आदेश से आक्रोशित शिक्षकों ने राज्य में बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है. शराब की सूचना वाले आदेश को लेकर कल यानि रविवार को राज्य भर में शिक्षक प्रदर्शन करेंगे. आदेश की प्रतियां जलाकर विरोध जताएंगे. बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार पप्पू ने इसका एलान किया है.

बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप कुमार पप्पू ने राज्य के सभी संघीय पदाधिकारी और प्रतिनिधि, सभी जिला अध्यक्ष, प्रधान सचिव, सभी प्रखंड अध्यक्ष, सचिव तथा बिहार के सभी राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ को पत्र जारी कर 30 जनवरी को आंदोलन की रणनीति बताई है. प्रदीप कुमार पप्पू ने कहा है कि राज्य के सभी प्रखंड मुख्यालय पर 30 जनवरी रविवार को अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग के आदेश पत्र की प्रति जलाकर विरोध करेंगे.

बता दें कि शुक्रवार को शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव की ओर से पत्र जारी किया गया है. जिसमें साफ निर्देश दिया गया है कि चोरी छिपे शराब पीने वाले और तस्करी करने वालों की सूचना मद्य निषेध विभाग को देनी होगी. शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने इस संबंध में सभी क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक, जिला शिक्षा पदाधिकारी और जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को पत्र लिखकर नशामुक्ति अभियान को सफल बनाने को कहा है. शिक्षा विभाग के पत्र में कहा गया है कि ऐसी सूचना लगातार मिल रही है कि अभी भी कुछ लोग चोरी-छुपे शराब का सेवन कर रहे हैं. इसका दुष्परिणाम शराब पीने वाले और उनके परिवार पर पड़ रहा है. ऐसे में इसे रोकना अति आवश्यक है. इस संबंध में निर्देश दिया जाता है कि प्राथमिक एवं मध्य विद्यालयों में शिक्षा समिति की बैठक बुलाकर नशा मुक्ति के संदर्भ में आवश्यक जानकारी दें.

साथ ही शिक्षा विभाग के आदेश में कहा गया है कि प्राथमिक,मध्य विद्यालय और उच्च माध्यमिक विद्यालय के सभी प्रधानाध्यापक, शिक्षक, शिक्षा सेवक, तालिमी मरकज के साथ ही शिक्षा समिति के सदस्यों को निर्देश दिया गया है कि चोरी छुपे शराब पीने वाले या आपूर्ति करने वालों की पहचान करें. इसके बाद इसकी सूचना मद्य निषेध विभाग के मोबाइल नंबर एवं टोल फ्री नंबर पर दें. पत्र में अपर मुख्य सचिव ने कहा है कि शराब की सूचना देने वालों की पहचान गोपनीय रखी जाएगी. शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने मद्य निषेध विभाग के मोबाइल नंबर 94734 00378 और 94734 00606 के साथ ही टोल फ्री नंबर 18003 456 268/15545 पर सूचना देने को कहा है.