01-December-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Rajya Sabha Election: नीतीश कुमार ने RCP सिंह का काटा टिकट, जदयू ने इनको बनाया राज्यसभा प्रत्याशी

Share This Post:

BIHAR: बिहार में राज्यसभा चुनाव को हलचल तेज है. इस बीच आरजेडी और बीजेपी के बाद अब जदयू ने भी राज्यसभा प्रत्याशी का ऐलान कर दिया है. केंद्रीय मंत्री RCP सिंह का टिकट कट गया है. नीतीश कुमार की जदयू ने खिरू महतो को राज्यसभा प्रत्याशी बनाया है. बिहार से जदयू के राज्यसभा प्रत्याशी खिरू महतो झारखंड जदयू के प्रदेश अध्यक्ष है. वो रामगढ़ के मांडू विधानसभा से पूर्व विधायक रहे हैं. इससे पहले बीजेपी ने राज्यसभा प्रत्याशी का ऐलान किया है. बीजेपी ने शंभू शरण पटेल और सतीश चंद्र दूबे को राज्यसभा प्रत्याशी बनाया है. दरअसल बिहार में राज्यसभा की 5 सीटों के लिए 10 जून को मतदान होना है. इसके लिए 24 मई से 31 मई नामांकन की तिथि घोषित है.

केंद्रीय इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह की राज्यसभा उम्मीदवारी को लेकर कई दिनों से जारी सस्पेंस
रविवार को खत्म हो गया. जदयू ने आरसीपी सिंह को तीसरी बार राज्यसभा नहीं भेजने का फैसला कर लिया. और खिरू महतो को राज्यसभा प्रत्याशी बनाने का बड़ा निर्णय ले लिया. झारखंड की राजनीति से ताल्लुक रखने वाले खिरू महतो पांच दिन पहले ही पटना आकर नीतीश कुमार से मुलाकात की थी. आरसीपी को लेकर लंबे समय से चल रही अटकलें पर विराम लग आया और यह सही साबित हुआ कि RCP सिंह का इस बार पत्ता कटना तय है.

इससे पहले बीजेपी ने शंभू शरण पटेल और सतीश चंद्र दुबे को राज्यसभा प्रत्याशी बनाया है. बीजेपी राष्ट्रीय मीडिया उप प्रमुख संजय मयूख ने यह जानकारी दी है. सतीश चंद्र दुबे पर बीजेपी ने दूसरी बार भरोसा जताया है. वहीं शंभू शरण पटेल बिहार के शेखपुरा के रहने वाले हैं. और वह धानुक जाति से आते हैं. अभी वह भाजपा के प्रदेश मंत्री हैं. शुक्रवार को आरजेडी के दोनों उम्मीदवारों ने नामांकन कर दिया. लालू प्रसाद की उपस्थिति में मीसा भारती और फैयाज अहमद ने नामांकन किया और इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव समेत पार्टी के बड़े नेता उपस्थित रहे .

बता दें कि बिहार की 5 राज्यसभा सीटों के लिए 24 मई से नामांकन की प्रकिया शुरू हो गई है. उम्मीदवार 31 मई तक नामांकन कर सकेंगे. वहीं 1 जून को नामांकन पत्रों की जांच होगी जबकि उम्मीदवार 3 जून तक नाम वापस ले सकते हैं. विधानसभा सीटों की संख्या के आधार पर इन पांच सीटों में से 2 सीट बीजेपी और 2 सीट आरजेडी को जबकि एक सीट जेडीयू के खाते में जाना लगभग तय है. अगर पांच से ज्यादा उम्मीदवार चुनाव में खड़े होते हैं तो फिर 10 जून को मतदान होगा और अगर पांच उम्मीदवार ही नामांकन करते हैं तो मतदान की जरूरत नहीं पड़गी. बिहार की जिन पांच राज्यसभा सीटों पर चुनाव होने वाले हैं, उनके सदस्यों का कार्यकाल 7 जुलाई को खत्म हो रहा है. जिसमें केंद्रीय मंत्री और जदयू नेता आरसीपी सिंह, आरजेडी की मीसा भारती, भाजपा के गोपाल नारायण सिंह और सतीश चंद्र दुबे के साथ-साथ शरद यादव की सीट शामिल है.