28-November-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

बिहार: साढ़े तीन साल से जेल में बंद सोनी देवी शपथ लेने पहुंची नवादा, भ्रष्टाचार की आरोपी मुखिया ने दोबारा की है जीत दर्ज

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: पटना की बेऊर जेल में गबन के मामले में पिछले साढ़े तीन साल से बंद नवादा के पौरा पंचायत की मुखिया सोनी देवी ने जेल से आकर मुखिया पद की शपथ ली.सोनी देवी ने बेऊर जेल में रहते हुए अपना नामांकन पर्चा भरा था और चुनाव में जीत दर्ज की थी.जिसके बाद उन्होंने बुधवार को नवादा में सदर प्रखंड ऑफिस में मुखिया पद की शपथ ली. वो यहां शपथ लेने के लिए पटना बेऊर जेल से पहुंची थीं. मुखिया पद के लिए सोनी देवी को बीडीओ अंजनी कुमार ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.

समर्थकों ने किया जोरदार स्वागत
सोनी देवी करीब साढ़े 3 साल से पटना की बेऊर जेल में आय से अधिक संपत्ति के मामले में बंद है. इसके बाद जब वह शपथ लेने के लिए नवादा पहुंची तो उनके समर्थकों ने जोरदार स्वागत किया. पंचायच चुनाव में यह सीट हॉट सीट था क्योंकि उन्होंने एमएलए प्रत्याशी रहे श्रवण कुशवाहा की पत्नी ममता देवी को पराजित किया था.

साढे तीन साल से जेल में बंद हैं सोनी देवी
कादिरगंज ओपी के पौरा गांव में आय से अधिक संपत्ति और सरकारी राशि गबन करने के आरोप में पौरा पंचायत की मुखिया सोनी देवी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था. बताया कि 17 मार्च 2017 को नगर थाने में सरकारी योजनाओं की राशि गबन को लेकर सोनी देवी सहित 12 लोगों को नामजद और अन्य के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई थी. दर्ज प्राथमिकी में कई अधिकारी और कर्मचारियों का भी नाम शामिल है. मामला सामने आने बाद जब जांच की गई तो आरोप सही निकला, लिहाजा सोनी देवी को गिरफ्तार कर किया गया था. तब से वो जेल में हैं

हथकड़ी पहनकर शपथ लेने पहुंचे मुखिया
इससे पहले मंगलवार को बेगूसराय के बरौनी प्रखंड में हथकड़ी पहनकर चौथी बार मुखिया बने मनोज कुमार शपश लेने पहुंते थे. मनोज कुमार मैदाबभनगामा पंचायत से चौथी बार मुखिया चुनाव जीतने में कामयाब हुए हैं. मनोज कुमार को फरवरी 2021 में निगरानी की टीम ने घूस लेते गिरफ्तार किया था जिसके बाद वह भागलपुर जेल में बंद और वह जेल से चुनाव जीतने में कामयाब हुए.