27-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

कटिहार में दो महिलाओं समेत 3 की संदिग्ध मौत, जहरीली शराब से मौत की आशंका

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: बिहार के कटिहार जिले में संदिग्ध हालात में तीन लोगों की मौत हो गई है और दो लोगों को गंभीर हालत में पूर्णिया में भर्ती कराया गया है. वहीं तीनों लोगों की मौत के पीछे जहरीली शराब की सेवन की चर्चा का बाजार गर्म हैं. हालांकि जिला प्रशासन ने जहरीली शराब से मौत की बात नाकार दिया है. फिलहाल शवों को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है. डीएम ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामला स्पष्ट हो पाएगा.

बता दें कि कोढ़ा थाना के जुराबगंज इलाके में पिछले दो दिनों में एक के बाद एक तीन लोगों की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है. जबकि दो लोग गंभीर हालत में पूर्णिया में भर्ती हैं. मृतकों की पहचान अविनाश कुमार उम्र 28 साल, सुलोचना देवी उम्र 52 साल और रेखा देवी उम्र 48 साल के रूप में की गई है. तीनों की अचानक तबीयत बिगड़ने की वजह से मौत हो गई. जबकि 18 साल के विकास और 35 साल के सचिन कुमार का पूर्णिया के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है.

वहीं, डीएम उदयन मिश्रा ने जहरीली शराब से मौत की बात को पूरी तरह से बेबुनियाद बताया है. उन्होंने कहा कि जांच अधिकारियों से मिली प्रारंभिक रिपोर्ट के अनुसार सभी की मौत किसी न किसी बीमारी से होने की बात सामने आयी है. एक व्यक्ति के पेट में दर्द होने से मौत हुई. जिसका परिजनों ने दाह संस्कार भी कर दिया. जबकि दो महिलाओं की मौत ब्रेन हेमरेज की वजह से हुई. इनमें से एक महिला अपनी बेटी से मिलने इलाहाबाद गई थी और वो सीवियर डायबिटीज से पीड़ित भी थीं.

इसी साल जनवरी महीने में बक्सर में शराब पीने से 6 लोगों की मौत हो गयी थी. यही नहीं पिछले साल अक्टूबर-नवंबर महीने में कई लोगों की जान जहरीली शराब ने ले ली थी. बिहार में 2021 में जहरीली शराब के 13 मामले सामने आए, जिनमें कम से कम 66 लोगों की मौत हो गई. नवंबर में गोपालगंज और पश्चिमी चंपारण में जहरीली शराब पीने से 40 लोगों की मौत हो गई थी. इससे पहले जुलाई में भी पश्चिमी चंपारण जिले में 12 लोगों की मौत हो गई थी. वैसे अगर गौर से देखा जाए तो ड्राई स्टेटबिहार में शराब की तस्करी आम बता हो चली है.