25-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

पटना में बन रहे गंगा एक्सप्रेस-वे पर जुलाई से शुरू हो जाएगा वाहनों का परिचालन, PMCH जाना होगा आसान

Share This Post:

DESK: लोकनायक गंगा पथ एक्सप्रेसवे का लाभ इसी वर्ष जुलाई से PMCH के मरीजों को मिलने लगेगा। PMCH से गंगापथ को जोड़ने के लिए अलग से पथ का निर्माण लगभग 80 फीसदी पूर्ण हो चुका है। पाये बना लिए गए हैं इंजीनियरों की मानें तो इसी महीने गार्डर चढ़ा कर उसपर सड़क निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा।

जून के आखिरी तक निर्माण पूरा होने के बाद जुलाई से इसकी कनेक्टिविटी PMCH से हो जाएगी।गंगा एक्सप्रेस वे पीएमसीएच में राजेंद्र सर्जिकल ब्लॉक के बगल से अशोक राजपथ से जोड़ा जाएगा। भविष्य में इसके पास मल्टी लेवल पार्किंग बनाने की भी योजना है। हालांकि गंगा एक्सप्रेस वे और पीएमसीएच कनेक्ट होने के बाद मरीजों को अस्पताल जाने में जाम का सामना नहीं करना पड़ेगा।

अभी अशोक राजपथ पर मेट्रो का काम हो रहा है, जिस कारण प्रतिदिन जाम रहती है जिससे मरीजों को अस्पताल पहुंचने में देरी होती है। PMCH जाने के लिए एएन सिन्हा इंस्टीट्यूट के नजदीक से अंडरपास पार कर गंगा एक्सप्रेस वे पर चढ़ना होगा। फिर वहां से सीधे PMCH पहुंचेंगे। भविष्य में गंगा एक्सप्रेस वे का विस्तार होने पर आधा किलोमीटर आगे कृष्णाघाट पर अंडरपास व अन्य सिस्टम बनेगा, मरीज जिसे पार कर PMCH पहुंचेंगे।

गंगा एक्सप्रेस वे के शुरू होने से PMCH में भर्ती होने वाले मरीजों को काफी सहूलियत होगी। वे जेपी सेतु पार करे रोटरी के माध्यम से गोलंबर होते हुए गंगा एक्सप्रेस वे पर चढ़ जाएंगे। फिर यहां से पीएमसीएच जाने के लिए 7.5 किमी दूरी तय करनी होगी। फिलहाल PMCH में 1800 बेड है, जिसे 5 हजार से ज्यादा करना है।

इस योजना पर काम शुरू हो गया है, वर्तमान में प्रत्येक दिन सिर्फ इमरजेंसी में 3 से 4 सौ मरीज भर्ती होते हैं और डेढ़ से दो हजार मरीज ओपीडी में दिखाते हैं। PMCH से गंगा एक्सप्रेस वे के कनेक्ट होते ही अशोक राजपथ पर डबल डेकर सड़क का निर्माण प्रारंभ हो जाएगा। 4 सितंबर, 2021 को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसका शिलान्यास किया था। इसे सितंबर 2024 में पूर्ण करना था। किन्तु, कार्य विलंब से शुरू होने की वजह से अब सितंबर 2025 तक इसे पूरा करना है। आपको बता दूं कि डबल डेकर के साथ ही PMCH के मरीजों को मेट्रो की भी सुविधा मिलेगी। PMCH में मेट्रो का एक अंडरग्राउंड स्टेशन होगा।

यह स्टेशन पटना मेट्रो रेल परियोजना के 14.45 किमी लंबे पटना रेलवे स्टेशन-पाटलिपुत्र बस टर्मिनल कॉरिडोर- लाइन टू का हिस्सा होगा। मिट्‌टी जांच के लिए यहां घेराबंदी कर दी गई है। PMCH को विश्व स्तरीय बनाने को लेकर हो रहा निर्माण कार्य प्रभावित न हो, इसके लिए PMCH के मेन गेट को बंद करने का फैसला लिया गया है। हालांकि इसकी तारीख निर्धारित नहीं हुई है, लेकिन यह निश्चित हो गया है कि प्रवेश के लिए ओपीडी (मखनिया कुआं) और सब्जीबाग के सामने वाला गेट खोला जाएगा। ट्रैफिक व्यवस्था सुचारू रूप से चले व मरीज या फिर एम्बुलेंस ठीक से अस्पताल में आ सके, इसके लिए जिला प्रशासन को पत्र लिखा गया है। सहमति मिलने पर मेन गेट बंद कर दिया जाएगा और इन दोनों गेट को खोल दिया जाएगा।