25-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

पटना में मेट्रो रेलवे कार्य की रफ्तार हुई तेज, कोरिडोर- 2 के तहत इन 7 जगहों पर बन रहे स्टेशन

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: राजधानी पटना में मेट्रो का काम अब रफ्तार पकड़ने लगा है। कंकड़बाग स्थित मलाही पकड़ी से न्यू ISBT रूट तक प्रायरिटी कॉरिडोर का काम तो पहले से ही जारी था लेकिन अब अशोक राजपथ पर भी मेट्रो का काम शुरू हो गया है। कोरिडोर- 2 के तहत गांधी मैदान और पटना विश्वविद्यालय के नजदीक अशोक राजपथ पर मेट्रो के लिए घेराबंदी किया जा रहा है। पहले इन जगहों की मिट्टी जांच की जाएगी और फिर डिजिटल सर्वे का काम प्रारंभ होगा। इसके बाद शीघ्र ही पीलर की नींव रखी जाएगी। गौरतलब है कि ISBT के पास डिपो का निर्माण होना है और उस पर काम भी हो रहा है।

कोरिडोर दो पटना स्टेशन से न्यू ISBT तक है जिसमें तकरीबन 12 स्टेशन होंगे। इसमें पटना स्टेशन से फ्रेजर रोड, गांधी मैदान, PMCH होते हुए राजेंद्र नगर तक 7 भूमिगत स्टेशन का निर्माण किया जाना है, जबकि मलाही पकड़ी से लेकर न्यू ISBT तक 5 एलिवेटेड स्टेशन बनाए जाने हैं। प्रायोरिटी कॉरीडोर के तहत एलिवेटेड स्टेशनों का काम 2030 तक पूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। पटना मेट्रो की भूमिका स्टेशनों के काम में जापान इंटरनेशनल कॉरपोरेशन एजेंसी यानी जायका की भूमिका काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है। भूमिगत रूट के लिए बड़े फंड की आवश्यकता पड़ेगी जो जायका और अन्य वित्तीय संस्थानों से ली जा रही है।

जायका के अधिकारियों का दल इसी माह पटना मेट्रो प्रोजेक्ट का पुनः दौरा कर सकता है। जायका से वित्तीय सहायता मिलते ही करीब एक दर्जन महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट के टेंडर की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जाएगी। और इसमें सबसे महत्वपूर्ण है इसके पहले भूमिगत मेट्रो का काम बीते वर्ष नवंबर में भी जायका के जापान मुख्यालय की की ओर से पटना मेट्रो का सर्वे कराया जा चुका है। पटना मेट्रो की प्रगति रिपोर्ट के मुताबिक पटना मेट्रो के निर्माण कार्य के लिए 72.56 प्रतिशत जमीन उपलब्ध है। मेट्रो परियोजना के सिविल वर्क का कुल लागत 4695.49 करोड़ है। इसमें NHAI और पथ निर्माण विभाग की जमीन पर ही 3407 करोड़ से अधिक का काम किया जाना है।