26-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

500-500 के 85 पीस जाली नोट के साथ दो तस्कर गिरफ्तार, मुजफ्फरपुर DRI ने मोतिहारी से धर दबोचा

Share This Post:

न्यूज डेस्क: मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में जाली नोट (Fake Money) के साथ दो तस्कर गिरफ्तार किए गए हैं. डीआरआई की टीम (DRI Team) ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए दोनों तस्कर को गिरफ्तार किया है. जो नेपाल के रास्ते भारत में लायी जा रही थी. DRI टीम को इसकी सूचना मिली तुरंत मोतिहारी पुलिस से संपर्क कर दोनों को धर दबोचा.

बताया जा रहा है कि बाइक से दोनों तस्कर नेपाल जाने के फिराक में थे. डीआरआई की टीम ने इन्हें मोतिहारी में ही धर दबोचा. बाइक की तलाशी में सीट के नीचे 500 रूपये के 85 नोट मिले. गिरफ्तार दोनों तस्कर सिवान जिले के रहने वाले हैं.

नोट क्वालिटी ए ग्रेड की बताई जा रही है. आशंका है कि पाकिस्तान में नोट छापी गई है, जो बंगलादेश और नेपाल के रास्ते भारत में लाई गई है. हिरासत में लिए गए तस्करों से अन्य खेप के संबंध में पूछताछ चल रही है, जिसके आधार पर रक्सौल बार्डर इलाके में तलाशी अभियान चल रही है

बता दें कि कुछ दिन पहले ही मुजफ्फरपुर पुलिस ने अंतर जिला गिरोह के तस्करों का बड़ा सिंडिकेट का पर्दाफाश किया था. 11.50 लाख रुपए के जाली नोटों के साथ 4 तस्करों को गिरफ्तार किया गया था. इसमें अंतर जिला गिरोह के 3 तस्कर भी शामिल हैं. ये सभी असम के नंबर वाली कार से रुपए की खेप लेकर आ रहे थे. इसी दौरान SSP जयंतकांत को इसकी गुप्त सूचना मिली थी.

बरामद जाली नोट 500, 200 और 100 रुपए के थे. दिखने में एकदम असली प्रतीत हो रहे हैं. एक आम आदमी इसे देखकर या छूकर बिल्कुल भी अंदाज नहीं लगा सकता कि ये नकली नोट है, SSP ने कहा कि एक बार तो टीम भी चौंक गई थी. जब इसे छूकर देखा गया तो एकदम असल मालूम हुआ. लेकिन, जब RBI की गाइडलाइन के अनुसार इसकी जांच की गई तब जाली नोट होने का पता लगा. SSP ने बताया कि जाली नोट पता करने के 10-12 तरीके होते हैं. उन्हीं मानकों में से 3-4 तरीकों में ये नोट खड़ा नहीं उतरा. इसके बाद सख्ती से पूछताछ की गई तो तस्करों ने जाली नोट की बात स्वीकार की.