27-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

बिहार में राम-जानकी फोरलेन के निर्माण से शिवहर में पर्यटन का होगा विकास, विकास को मिलेगी रफ्तार

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: अयोध्या से जनकपुर तक राम-जानकी पथ के निर्माण होने से शिवहर जिले में पर्यटन का विकास होगा। लगभग 28 किमी लंबी शिवहर-सीतामढ़ी सड़क का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। दरसल इस सड़क को फोरलेन में विकसित करने की योजना है। निर्माण होने के बाद यह सड़क राम-जानकी फोरलेन के नाम से विख्यात होगी। यह सड़क रामायण सर्किट का भाग होगा।

इस सड़क के चलते माता सीता की जन्मस्थली सीतामढ़ी एवं जनकपुर आने वाले पर्यटक शिवहर में रुक सकेंगे। यहां बाबा भुवनेश्वरनाथ महादेव (देकुली धाम) का मंदिर है। जिले का यहां सबसे बड़ा ऐतिहासिक स्थल है। यहां पर महाभारत काल का शिवलिंग स्थापित है। बताया जाता है कि, इसी स्थान पर द्रोपदी और उसके भाई की उत्पत्ति हुई थी। यहां पर देश-विदेश के लोग दर्शन के लिए आते हैं। इसके बाद भी यह स्थल पर्यटन के मानचित्र में दर्ज नहीं हो सका है। अब प्रशासनिक स्तर पर पुरनहिया के बौद्धि माई स्थान को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने की योजना बनाई जा रही है।

इसके अलावा जिला प्रशासन की टीम जिले में पर्यटन की संभावना ढूंढ रही है। इन सबके बीच राम-जानकी पथ बनने के बाद चंपारण से सीतामढ़ी और जनकपुर जाने के लिए जो सड़क जा रही है, वह देकुली धाम से होकर गुजरेगी। देकुली धाम हाईवे के समीप है। ऐसे में पर्यटक निश्चित रूप से महाभारतकालीन इस धार्मिक स्थल में रुकेंगे।

इससे यहां के व्यवसायिकों को में भी लाभ मिलेगा। भुवनेश्वरनाथ महादेव में प्रति माह लगभग 5 लाख श्रद्धालु आते हैं। राम-जानकी पथ बनने के बाद श्रद्धालुओं की संख्या 3 गुना बढने की उम्मीद है। सांसद रमा देवी कहती हैं कि इस सड़क के निर्माण होने से बिहार राज्य के अन्य इलाकों में विकास के साथ-साथ उनके संसदीय क्षेत्र शिवहर, सीतामढ़ी और चंपारण में पर्यटन को एक नया आयाम मिलेगा। बेरोजगारी भी दूर होगी।

भाजपा जिला मंत्री डा. नूतन सिंह बताती हैं कि श्रीराम-जानकी पथ का निर्माण होने से शिवहर का ही नहीं, बल्कि आर्थिक विकास होगा। आस पास के जिले सहित नेपाल से भी सीधा जुड़ाव होगा। दूरी भी घटेगी। डीएम सज्जन राजशेखर का भी मानना है कि इसके शिवहर शहर से गुजरने का भी फायदा मिलेगा। श्रीराम जानकी पथ अयोध्या से गोपालगंज से चंपारण के चकिया होते हुए शिवहर से गुजरते हुए सीतामढ़ी जाएगी।

सीतामढ़ी में यह सड़क समाप्त होगी। इसके बाद नेपाल सरकार नेपाल में 30 किमी लंबी सड़क का निर्माण कराएगी। चकिया से शिवहर की दूरी 40 किमी एवं सीतामढ़ी की दूरी 28 किमी है। इधर, शिवहर के इलाकों में इस सड़क के निर्माण के लिए NHAI की सक्रियता बढ़ गई है। हालांकि, जिस NH-104 को राम-जानकी पथ में शामिल किया जा रहा है, अभी उसका निर्माण जारी है। अब भी हाईवे में आधा दर्जन पुल और लगभग एक किमी में सड़क का निर्माण नहीं हो सका है।