02-July-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

मूर्तिकार मिंटू पॉल द्वारा बोध गया में बनाई जा रही है भगवान बुद्ध की दुनिया की सबसे लंबी प्रतिमा

Share This Post:

न्यूज़ डेस्क: बिहार के बोध गया में भगवान बुद्ध की दुनिया की सबसे लंबी प्रतिमा बनाई जा रही है। जो 100 फीट लम्बी, 30 फीट ऊंची और 24 फीट चौड़ी है। भगवान बुद्ध की शयन मुद्रा में इस प्रतिमा को बोधगया के जानी बीघा गांव में बनाया जा रहा है। भगवान बुद्ध की इस मुद्रा में यह मूर्ति विश्व की सबसे लंबी प्रतिमा है। बुद्ध की इस मूर्ति का निर्माण बुद्धा इंटरनेशन वेलफेयर मिशन द्वारा किया जा रहा है। वर्ष 2019 में बुद्धा इंटरनेशन वेलफेयर मिशन ने इसका निर्माण शुरू किया था।

बुद्धा इंटरनेशनल वेलफेयर मिशन के फाउंडर सेक्रेटरी आर्य पाल भिक्षु ने बताया कि मिशन की नींव वर्ष 2011 में रखी गई थी। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि भगवान बुद्ध की इस प्रतिमा को कोलकाता के मशहूर मूर्तिकार मिंटू पॉल बना रहे हैं। मूर्ति के निर्माण में फाइबर ग्लास का प्रयोग हो रहा है। इस प्रतिमा का उद्घाटन वर्ष 2023 के फरवरी में किया जाएगा। आपको बता दें कि भगवान बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति बोध गया में हुई थी जहां से उनके प्रवचन और संदेश दुनिया के कोने-कोने में फैले थे। भगवान बुद्ध की यह प्रतिमा शयन मुद्रा में है।

भगवान बुद्ध ने इसी मुद्रा में महापरिनिर्वाण के पहले कहा था कि आज से 3 महीने बाद उनकी मृत्यु हो जायेगी। यहां तक कि भगवान बुद्ध ने अपना अंतिम संदेश भी इसी मुद्रा में दिया था। भगवान बुद्ध को 80 वर्ष की अवस्था में कुशीनगर में महापरिनिर्वाण की प्राप्ति हुई थी। हालांकि कोरोना काल के कारण इसके निर्माण कार्य में विलंब हुआ है। भगवान बुद्ध की इस प्रतिमा में उनका सिर दाहिने हाथ पर टिका है। चेहरे पर शांत भाव और होंठों पर मुस्कान हैं। कोलकाता के प्रसिद्ध मूर्तिकार मिंटू पॉल प्रतिमा निर्माण के क्षेत्र में इस बुद्ध मूर्ति से एक और मिसाल बनने जा रहे हैं। मिंटू पॉल पहले भी मां दुर्गा की कई मूर्तियां बनाकर ख्याति हासिल कर चुके हैं।