25-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

रसोई का बिगड़ा बजट, पेट्रोल-डीजल के बाद मसालों की कीमत सातवें आसमान पर

Share This Post:
  • रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद से लगातार बढ़ रही है महंगाई
  • पेट्रोल-डीजल की कीमतों के बाद मसाले हुए महंगे
  • आटा, जौ, चावल, धनिया, जीरा और हल्दी के बढ़े दाम

DESK: देश में इन दिनों महंगाई आसमान छू रही है. कई दिनों से बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों के बाद अब घर की रसोई का भी खर्च बढ़ गया है. अब आम आदमी को आटा-चावल के लिए भी जेब ढीली करनी पड़ेगी. देश के कई राज्यों में आटा, चावल, रिफाइंड और मसाले समेत कई चीजों के दाम बढ़ गए हैं.

रूस-यूक्रेन युद्ध के साथ ही बढ़ गई महंगाई

रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद से ही लगातार महंगाई बढ़ रही है. युद्ध शुरू होने के साथ ही खाद्य तेल खासतौर पर सूरजमुखी के तेल के दाम आसमान छूने लगे. इसके बाद आटा, जौ, चावल, धनिया, जीरा और हल्दी की कीमतों ने भी रिकॉर्ड तोड़ दिया.

इन मसालों की कीमतें सातवें आसमान पर

रोजमर्रा के इस्तेमाल में प्रयोग होने वाले मसालों की कीमत सातवें आसमान पर पहुंच गई है. बाजार में हल्दी के दाम में 10 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. तो दूसरी और धनिए के दाम 20 फीसदी तक बढ़ गए हैं. इसके अलावा जीरा का भाव 230-235 रुपये प्रति किलो तक पहुंच चुका है.

नींबू के भाव ने तोड़े रिकॉर्ड

मसालों के अलावा सब्जियों की कीमतों में भी भारी उछाल देखने को मिल रहा है. खासतौर पर गर्मियों में बढ़ते तापमान के बीच नींबू की डिमांड भी काफी बढ़ गई है, जिस कारण नींबू कई जगहों पर 300-400 रुपये प्रति किलो के पार हो गया है. हाल ये है कि कई जगहों पर 10-15 रुपये में सिर्फ एक नींबू ही मिल रहा है. इसमें सबसे बड़ा कारण डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को माना जा रहा है. ट्रांसपोर्ट खर्च बढ़ने के कारण तथा मंडियों में आवक घटने के कारण नींबू के भावों में बढ़ोतरी हो रही है.