26-September-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

नवगछिया में अपराधियों ने रिटायर्ड फौजी को दिल के पास गोली मारकर की हत्या,परिजनों में पसरा मातम।

Share This Post:

नवगछिया : भागलपुर के पुलिस जिला नवगछिया के रंगरा सहायक थाना क्षेत्र के राष्ट्रीय राज मार्ग 31 पर एक ढाबे पर जमीन विवाद की पंचयाती के क्रम में भवानीपुर गांव निवासी रिटार्यड फौजी 42 वर्षीय अजय यादव को गोली मार कर हत्या कर दी गई,अजय यादव के दिल के पास काफी करीब से गोली मारी गयी है. घटना के तुरंत बाद घायल अवस्था मे अजय यादव को नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल लाया गया ,जहां इलाज के क्रम में उन्हें मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद परिजन काफी आक्रोशित हैं. नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में पुलिस पत्रकारों को भी परिजनों की तल्खी का सामना करना पड़ा. घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची नवगछिया और रंगरा थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में पोस्टमार्टम की प्रक्रिया को शुरू करवाया. और शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों को सौंप दिया गया .

घटना के बाबत बताया जा रहा है कि हत्या का कारण दस कट्ठा जमीन को ले कर दो पक्षों के बीच का विवाद है. भवानीपुर गांव के ही गोपाल यादव उर्फ गोपी सरदार और रिटायर्ड फौजी अजय यादव के बीच 10 कट्ठा जमीन को लेकर विवाद चल रहा है. मृतक के भाई विजय यादव ने बताया कि सुबह गोपी सरदार विवादित जमीन पर निर्माण कार्य करवा रहा था. जिस पर रिटार्यड फौजी ने गोपी सरदार को बात चीत करने के लिए बुलाया. अजय यादव के अर्धनिर्मित ढाबे पर ही दोनों पक्षों के लोग बैठे कर सुलह का रास्ता निकालने का प्रयास कर रहे थे. इसी बीच चार चक्का वाहनों पर करीब 20 लोगों के साथ मौके पर गोपी सरदार का पुत्र धनंजय यादव पहुंच गया. करीब पांच से छः लोगों के पास हथियार भी था. जबतक लोग कुछ समझ पाते तब तक धनंजय यादव थ्री नट लेकर अजय यादव के करीब पहुंच गया और काफी नजदीक से उसे गोली मार दी. मृतक के भाई विजय यादव ने कहा कि गोली मारने के बाद वे लोग धनंजय यादव को पकड़ना चाह रहे थे, लेकिन धनंजय के चालक मिथिलेश उर्फ मिथला यादव ने रायफल से फायर कर दिया तो दूसरी तरफ अपराधी पथराव करने लगे और वहां से भाग गए. मृतक के भाई ने बताया कि घटना के बाद रिटायर्ड फौजी गंभीर रूप से घायल हो गए थे. उन्हें इलाज के लिये नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. रंगरा थाने में घटना की प्राथमिकी दर्ज कर मामले की छानबीन शुरू करते हुए अपराधियों की धरपकड़ को लेकर विशेष टीम ने छापेमारी अभियान तेज कर दिया है ….