04-December-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

ढोलबज्जा: सबौर अस्पताल में कार्यरत एंबुलेंस के ईएमटी नवनीत मंडल उर्फ बबलू को ट्रक ने रौंदा, मौत.

Share This Post:

खलीफा टोला चेक पोस्ट पर पुलिस मुकदर्शक बन रगड़ते रहे खैनी.
ट्रक खड़ी कर चालक खलासी हो गए फरार.
नाईट ड्यूटी कर मोटरसाइकिल से घर जा रहे थे नवनीत.

रिपोर्ट/-मनीष कुमार मौर्या/- ढोलबज्जा: बाबा बिशु राउत पुल के संपर्क पथ खलीफा टोला पुलिस चेक पोस्ट समीप, सबौर अस्पताल में कार्यरत एंबुलेंस के ईऐमटी नवनीत मंडल उर्फ बबलू को एक ट्रक ने रौंदते हुए निकल गया. जिससे मौके पर ही उसका मौत हो गया. सड़क नवनीत मंडल मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड अंतर्गत, फूलौत ओपी क्षेत्र के मोरसंडा पंचायत के ढोढ़ाय बासा गांव निवासी बालेश्वर मंडल के पुत्र बताया जा रहा है. नवनीत की पत्नी विनीता कुमारी वहां के वार्ड नंबर चार के सेविका हैं. घटना के वक्त प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि- मृतक सीडी डिलक्स मोटरसाइकिल बीआर 39एन 7731 से भटगामा जीरोमाइल की तरफ जा रहे थे.

जैसे हीं वह चौसा के खलीफा टोला पुलिस चेक पोस्ट समीप पहुंचा तो, वहां वाहनों की धीमी गति को लेकर सड़क के दोनों बगल ड्राम खड़ी कर ब्रेकर लगाया गया है. जिसे पास करने के दौरान हीं पीछे से आ रही ट्रक बीआर नंबर- 19जीए 4529 ने बाइक सवार नवनीत को रौंदते हुए आगे निकल गए. कुछ स्थानीय लोगों ने दौड़ कर नवनीत को उठा कर चेक पोस्ट समीप हीं रखा और ट्रक का पीछा कर करीब दो मीटर दूरी पर पकड़ लिया.

स्थानीय लोगों द्वारा बार-बार कहने पर भी चेक पोस्ट पर तैनात पुलिस कर्मी खैनी रगड़ते रहे. ना तो तड़पते जख्मी को उठा रहे थे, ना हीं रोके गए ट्रक ड्राइवर को पकड़ने गया. जिस अकेले ग्रामीण ने ट्रक को रोक कर उसके चालक व खलासी को पकड़ा था. उससे झड़प भी हुई. अंतिम में उस ग्रामीण ने चालक से ट्रक की चाबी भी छीन ली है. काफी देर तक पुलिस को नहीं पहुंचने से अकेला ग्रामीण को देख चालक खलासी गाड़ी छोड़ कर फरार हो गए. घटना की सूचना मिलने के बाद चौसा पुलिस पहुंचे. जहां खैरपुर कदवा निवासी मृतक के मामा सुधीर मंडल के साथ शव को उठा कर पोस्टमार्टम के लिए मधेपुरा ले गए.

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सबौर के स्वास्थ्य प्रबंधक विनय कुमार उपाध्याय ने बताया कि नवनीत अस्पताल के एंबुलेंस में ईएमटी के रूप में कार्यरत थे. वह रात्रि ड्यूटी कर सुबह मोटरसाइकिल से घर जा रहे थे. जिसका रास्ते में ही ट्रक की चपेट में आने से मौत हो गई. मृतक दो भाई में बड़ा था.