26-June-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Naugachia Crime: बेख़ौफ अपराधियो ने कोर्ट से गवाही देकर लौट रहे आर्मी के रिटायर्ड जेसीओ को गोलियों से भूना, घटनास्थल पर हुई दर्दनाक मौत

Share This Post:
  • दो मोटरसाइकिल पर सवार नकाबपोश चार अपराधियों ने दिया घटना को अंजाम
  • मंझले पुत्र के साथ नवगछिया कोर्ट से गवाही देकर यात्री ऑटो से लौट रहे थे घर
  • खरीक के लगदाहा चौक और रिलायंस पेट्रोल पंप के बीच एनएच 31 पर दिया घटना को अंजाम
  • मामला पुतोहु के प्रेम-प्रसंग से जुड़ा, विरोध करने को लेकर हुई फौजी की हत्या
  • 2018 में पुत्र संजय शर्मा को भी किया था मारने का प्रयास

Naugachia Crime News: खरीक थाना क्षेत्र अंतर्गत लगदाहा मोड़ रिलायंस पेट्रोल पंप के समीप एनएच 31 पर बुधवार की दोपहर क़रीब 1: 48 बजे दो मोटरसाइकिल पर सवार चार नकाबपोश अपराधियों ने एक रिटायर सेना के जवान को गोलियों से छलनी कर दिया। जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। मृतक रिटायर फौजी नारायणपुर के भवानीपुर ओपी क्षेत्र अंतर्गत चकरामी निवासी शशिधर शर्मा 71 वर्ष बताया जाता है। जानकारी के अनुसार मृतक फौजी सेना के ऑफिसर थे और 2001 में वे सेवानिवृत हुए थे। बुधवार को नवगछिया कोर्ट से गवाही देकर यात्री ऑटो से घर लौट रहा था। उनके साथ मे मंझला पुत्र संजय कुमार शर्मा भी ऑटो पर ही सवार था, जो अपराधियों की गोली का शिकार होने से बाल बाल बच गया। ऑटो से कूदकर भागकर उसने अपनी जान बचाई। अपराधियों ने मृतक फौजी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाते रहा जबतक फौजी ऑटो से नीचे गिड़कर मृत नही हो गया। उनको दाया जांघ में एक गोली, बायां बांह में एक गोली, बांया गाल में एक गोली, एक कान में और एक गोली दाएं हाथ की तलहथी पर कुल पांच गोली मारी गई है। एक गोली जांघ में फंसी है बांकी सभी शरीर के आरपार हो गया है।

बताया गया कि मृतक फौजी नवगछिया कोर्ट में चल रहे एक केस में गवाह था। बुधवार को पुत्र संजय शर्मा के साथ ऑटो से नवगछिया कोर्ट गवाही देने पहुंचा था और गवाही देने के बाद पुत्र के साथ कचहरी चौक पर ही ऑटो पर सवार होकर घर लौट रहा था। उनके ऑटो पर करीब दस लोग सवार थे। तभी खरीक एनएच 31 रिलायंस पेट्रोल पंप समीप लगदाहा चौक से आगे बढ़ने के बाद पीछा करते हुए पहुंचे दो मोटरसाइकिल पर सवार चार नकाबपोश हथियारबंद अपराधियों ने ऑटो को ओवरटेक कर रोका और फौजी पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने लगा। जिसके बाद ऑटो पर सवार चालक समेत सभी यात्री जान बचाने के लिए बगीचे की तरफ भागे। जबकि मृतक फौजी का पुत्र संजय भी गढ्ढे में कूदकर भागकर किसी तरह अपना जान बचाया। वही अन्य सभी यात्री नीचे के रास्ते से ही पेट्रोल पंप की ओर भागे।

ही घटना को अंजाम देने के बाद सभी अपराधी झंड़ापुर ओपी क्षेत्र की ओर फरार हो गए। घटना की सूचना मिलते ही बिहपुर सर्किल इंस्पेक्टर विनय कुमार, खरीक थानाध्यक्ष पंकज कुमार, झंड़ापुर थानाध्यक्ष भूपेंद्र कुमार सदलबल मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल भेजा गया। पुलिस ने घटनास्थल से चार खोका भी बरामद किया है। वही नवगछिया एसडीपीओ दिलीप कुमार ने अनुमंडल अस्पताल आकर मृतक के शव को देखकर जांच पड़ताल किया।

मृतक के घरवालो को घटना की सूचना मिलते ही सभी रोते चिल्लाते अनुमंडल अस्पताल नवगछिया पहुंचे। मृतक को चार पुत्र, एक पुत्री है। बड़ा पुत्र शिव कुमार शर्मा आर्मी में जेसीओ है, और दूसरा संजय कुमार शर्मा जो गाँव मे ही लकड़ी का कारोबार करते हैं। तीसरा अंजय कुमार शर्मा, श्रीकुमार शर्मा खेतीबाड़ी करते है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मृतक फौजी की मंजली पुतोहु यानी पुत्र संजय शर्मा की पत्नी प्रेमलता देवी का बहुत लंबे समय से बगल के ही पड़ोसी (रिश्ते में भतीजा है) चंदन शर्मा से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। जिसको लेकर दोनो परिवार के बीच अंदरूनी आपसी विवाद था। 2018 में महिला के प्रेमी चंदन शर्मा ने संजय कुमार शर्मा का भी हत्या करने का प्रयास किया गया था।

वही संजय की पत्नी प्रेमलता को कई बार चंदन शर्मा के साथ उसके घर मे ही आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ने के बाद संजय के पिता मृतक शशिधर शर्मा ने स्थानीय भवानीपुर ओपी में केस दर्ज किया गया था। जिसमे आरोपित पुतोहु प्रेमलता ने पुलिस के समक्ष प्रेम-प्रसंग की बात स्वीकारते हुए पड़ोसी चंदन शर्मा के साथ रहने का बयान भी दिया था। जिसमे भवानीपुर ओपी कांड संख्या- दर्ज किया गया था। वही इसी मामले में नवगछिया एडीजे थर्ड कोर्ट में सत्र वाद संख्या- 634/18 चल रहा है। जिसमे प्रेमलता देवी जमानत पर थी। इसी केस में वादी शशिधर शर्मा गवाही देने पुत्र संजय के साथ बुधवार को नवगछिया कोर्ट पहुंचा था। बताया जाता है कि आरोपित महिला प्रेमलता देवी को चार पुत्री और एक पुत्र है सभी नाबालिक 8 से 17 वर्ष के हैं सभी अपने पिता संजय शर्मा के पास रहते हैं। वही प्रेमलता सभी को त्यागकर प्रेमी चंदन शर्मा के साथ उसके घर मे रहती है।

घटना की सूचना मिलते ही मृतक की पत्नी वीणा देवी और पुत्री सपना सभी रोते हुए नवगछिया असप्ताल पहुंचे और शव से लिपटकर दहाड़ मारकर रोने लगी। इस बारे में नवगछिया एसपी शुशांत कुमार सरोज ने बताया कि घटना प्रेम-संबंध के विरोध को लेकर हुई है। मामले की गहन पड़ताल करने में पुलिस जुटी हुई है। मामले के त्वरित उद्भेदन व अपराधियों को पकड़ने के लिए नवगछिया एसडीपीओ दिलीप कुमार के नेतृत्व में एसआइटी टीम का गठन कर कई थानों की पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। जल्द ही सभी अपराधी को गिरफ्तार किया जाएगा।