26-September-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

नवगछिया पुलिस को 24 घंटे के अंदर मिली दूसरी बड़ी सफलता, शार्प शूटर छोटुआ यादव गिरोह का शातिर अपराधी चढ़ा पुलिस के हत्थे।

Share This Post:

-गोपालपुर थाना में एक लूट, झंडापुर में एक लूट एवं नवगछिया में एक लूट व एक हत्या के मामले हैं दर्ज।

नवगछिया: नवगछिया पुलिस को 24 घंटे के भीतर दूसरी सफलता मिली। पुलिस ने नया टोला निवासी हार्डवेयर व्यवसायी पप्पू मंडल की सरेआम हत्या करनेवाले शार्प शूटर छोटू यादव का भांजा गोपालपुर थाना क्षेत्र के डिमहा निवासी दिलखुश यादव को गिरफ्तार कर लिया है। दिलखुश यादव की गिरफ्तारी नवगछिया पुलिस ने भागलपुर के मंगलम हॉस्पिटल के पास से की है.

जानकारी देते नवगछिया एसपी एस.के सरोज

नवगछिया एसपी सुशांत कुमार सरोज ने जानकारी देते हुए कहा कि दिलखुश यादव एक शातिर अपराधी है। हत्या, लूट जैसे जघन्य आपराधिक मामलों में वह वांछित रहा है। नवगछिया पुलिस जिला के गोपालपुर, नवगछिया एवं झंडापुर ओपी में उसके विरुद्ध हत्या एवं लूट के मामले दर्ज हैं। गोपालपुर थाना में एक लूट, झंडापुर में एक लूट एवं नवगछिया में एक लूट व एक हत्या में फरार चल रहा था। दिलखुश यादव की गिरफ्तारी पुलिस के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। दिलखुश यादव की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी लेकिन वह बच निकलता था। सोमवार को गुप्त सूचना मिली कि दिलखुश यादव भागलपुर में है। सूचना के आलोक में एसडीपीओ दिलीप कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम द्वारा छापेमारी की गई। छापेमारी में दिलखुश यादव को भागलपुर में गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के दौरान वह अपनी पहचान को छुपा रहा था। पुलिस फिर भागलपुर से नवगछिया लेकर आई और पहचान का सत्यापन कर उसे गिरफ्तार किया।

छोटुआ गिरोह का शातिर शूटर है दिलखुश।

एसपी ने कहा कि नवगछिया पुलिस जिले में हुए कई आपराधिक घटनाओं में उसने अपनी संलिप्तता की बात स्वीकार की है। दिलखुश यादव अपने मामा कुख्यात छोटुवा यादव के गिरोह का सदस्य हैं। सुपारी लेकर हत्या जैसे घटना को अंजाम देता है। इसके अलावा सड़क पर वाहन चालकों से लूट की घटना को अंजाम देता था। इलाके के अन्य अपराधियों के संदर्भ में भी उसने पुलिस को कई अहम जानकारी दी है। पुलिस उसके सहयोगी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

राजेश यादव से 50 हजार व मोबाइल लेकर की थी पप्पू मंडल की हत्या।

नवगछिया के नया टोला वार्ड नंबर 23 में हुए चंद्रशेखर मंडल उर्फ पप्पू मंडल की हत्या 26 फरवरी को हुई थी। नयाटोला के राजेश यादव से 50 हजार नगद एवं प्रत्येक शूटर के लिए एक-एक मोबाइल देने की सुपारी लेकर दिलखुश यादव ने अपने सहयोगी अपराधियों के साथ मिलकर हत्याकांड को अंजाम दिया था। राजेश यादव ने जेल के अंदर रहकर हत्या की पूरी साजिश रची थी।

यह भी पढ़े- नवगछिया पुलिस को मिली बड़ी सफलता,हथियार और गोली के साथ पेशेवर शूटर पीयूष सहित दो अपराधी गिरफ्तार,पढ़े पूरी रिपोर्ट संक्षिप्त में.।।