30-November-2022

Before Publish News

Before Publish News Covers The Latest And Trending News on Village, City, State, Country, Foreign, Politics, Education, Business,Technology And Many More

Army Helicopter Crash: कुन्नूर हेलिकॉप्टर क्रैश में सिर्फ एक की बची जान, अस्पताल में चल रही है जिंदगी और मौत से जंग

Share This Post:

भारतीय वायुसेना (IAF) का एक हेलिकॉप्टर बुधवार को क्रैश हो गया. इस हेलिकॉप्टर में सवार रहे प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत (Gen Bipin Rawat) और उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 13 लोगों की मौत हो गई. वायु सेना ने कहा कि दुर्घटना में घायल हुए ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह (Varun Singh) का वेलिंगटन में सेना के अस्पताल में उपचार चल रहा है. हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग सवार थे.

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह को इसी साल गणतंत्र दिवस के मौके पर सौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था. उन्होंने साल 2020 में LCA तेजस एयरक्राफ्ट को आपतकाल की स्थिति में बचाया था. इसी के लिए उन्हें ये सम्मान दिया गया.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वरुण सिंह के लिए दुआएं की है. राजनाथ सिंह ने कहा, “इस दुर्घटना में अपने प्रियजनों को खोने वालों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है. ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं, जिनका वर्तमान में सैन्य अस्पताल, वेलिंगटन में इलाज चल रहा है.”

हेलिकॉप्टर क्रैश और जनरल रावत के निधन पर पीएम मोदी ने दुख जताया है. उन्होंने कहा, ”तमिलनाडु में हेलिकॉप्टर दुर्घटना से मैं बहुत दुखी हूं, जिसमें हमने जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बलों के अन्य कर्मियों को खो दिया. उन्होंने अत्यंत कर्मठता से भारत की सेवा की. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं.”

उन्होंने कहा, ”जनरल रावत एक उत्कृष्ट सेनिक थे. एक सच्चे देशभक्त के रूप में उन्होंने सुरक्षा तंत्र और हमारे सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण में बहुत बड़ा योगदान दिया. रणनीतिक मामलों में उनकी दूरदृष्टि असाधारण थी. उनके निधन ने मुझे गहरा सदमा पहुंचाया है.”

मोदी ने कहा कि भारत के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष के रूप में उन्होंने रक्षा सुधारों सहित सशस्त्र बलों से संबंधित विभिन्न आयामों पर काम किया. उन्होंने कहा, ”भारत कभी उनकी असाधारण सेवा को नहीं भूलेगा.”

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि एमआई-17वी5 हेलिकॉप्टर सुलूर से वेलिंगटन के लिए रवाना हुआ और चालक दल सहित हेलिकॉप्टर में 14 लोग सवार थे. सीडीएस वेलिंगटन में डिफेंस स्टाफ कॉलेज जा रहे थे. वायुसेना ने कहा कि दुर्घटना की ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ के आदेश दे दिए गए हैं.